अचानक आये पानी के तेज़ बहाव से यात्रियों व निगम की बस को सुरक्षित रखने के बावज़ूद भी एचआरटीसी बस चालक निलंबित..

दर्जनों लोगों की जान बचाने वाले चालक को एचआरटीसी विभाग सिरमौर ने किया निलंबित

अचानक आये पानी के तेज़ बहाव से यात्रियों व निगम की बस को सुरक्षित रखने के बावज़ूद भी एचआरटीसी बस चालक निलंबित..

जहाँ बारिश ने हिमाचल सहित पड़ोसी राज्य हरियाणा व उत्तराखण्ड में कोहराम मचा रखा है 72 घंटे से ज्यादा की मूसलाधार बारिश से हाहाकार मचा हुआ है। दो दिन के भीतर 21 लोगों की जान जा चुकी थी और सोमवार को ही आठ और लोगों की मौत हो गई थी जबकि छह लोग वह अनेकों गाड़िया उफनती नदियों और पानी के बहाव में बह गए हैं। सोशल मिडिया पर अनेक तबाही वाली विडियो चल रही हैं ऐसी ही एक वीडियो देहरादून-पाँवटा साहिब रोड पर शिमला बाई पास के पास अचानक आये पानी के तेज़ बहाव में फ़सी एचआरटीसी की देहरादून-चंडीगढ़ रूट पर चलने वाली नाहन डीपु की बस का वायरल हो रहा है! जिस वीडियो में लोग कॉमेंट करके निगम के बस चालक को दोषी ठहरा रहें हैं और विभाग़ ने भी बिना इनक्वायरी के तुरंत चालक को निलंबित कर दिया! जबकि हक़ीक़त इसके उलट है, चालक ने बड़ी ही सूझबूझ दिखाते हुए पानी के तेज़ बहाव के बीच बस को रोक कर रखा और सभी यात्रियों व निगम की बस को सुरक्षित रखा! चालक की लापरवाही होती तो अनेक लोगो कि जान जा सकती थी! इस प्राकृतिक अपदा में ज़हा लोगो के सैकड़ो वाहन पानी के बहाव की चपेट में आ गये है वहा मात्र एचआरटीसी बस के चालक को दोषी ठहराना व निलंबित करना न्यायसंगत नहीं है! निलंबित चालक राजेंद्र सिंह इतनी बारिश में भी ईमानदारी से अपनी ड्यूटी दे रहा था और पिछले कई वर्षों से सबसे व्यस्त पाँवटा साहिब-दिल्ली रूट पर अपनी सेवाय दे रहा था और आज तक किसी यात्री व बस को किसी प्रकार का कोई नुक़सान नहीं पहुँचाया! इतना ही नहीं चालक राजेंद्र सिंह इससे पहले शिमला-हमीरपुर-दिल्ली- कुल्लू आदि रूट पर कई वर्षों तक वॉल्वो बस भी चला चुका है !बावज़ूद इसके इतने अनुभवी व ईमानदारी से अपनी ड्यूटी करने वाले चालक को विभाग ने बिना भीषण परिस्थितियो का अनुभव किए नौकरी से निलंबित कर दिया!