आई फ्लू का पांवटा साहिब में बड़ा खतरा हॉस्पिटल में आई फ्लू रोगियों की संख्या बढ़ी

दो दिन में उपचार करवाने के लिए पहुंचे 130 मरीज

पांवटा बारिश के बाद आंखों से जुड़ी बीमारियों का खतरा बढ़ने लगा है। पिछले कुछ दिनों से पांवटा में आई फ्लू का प्रकोप बढ़ा है। खासकर बच्चों में यह तेजी से फैल रहा है। इससे बच्चों की आंखों में इन्फेक्शन हो रहा है जिससे आंखों में लालपन, सूजन और गंभीर दर्द हो रहा है। वही पांवटा सिविल अस्पताल में आई फ्लू के मरीजों की संख्या बढ़ती जा रही है। दो दिनों के भीतर ही 130 मरीज आई फ्लू के आ चुके हैं। अस्पताल में आंखों में सूजन, दर्द, लालिमा और खारिश के चलते मरीज उपचार के लिए पहुंच रहे हैं।

 

आई फ्लू से पीड़ित ने बताया कि दो दिनों से आई फ्लू संक्रामक वायरस की चपेट में है। जिसके चलते में पांवटा सिविल हॉस्पिटल में उपचार करने के लिए पहुंच गए हैं।

 

सिविल अस्पताल पांवटा में नेत्र रोग विशेषज्ञ डॉक्टर प्रियंका ने बताया कि नेत्र ओपीडी में हर चौथा मरीज इस बीमारी से पीड़ित है। ओपीडी में यदि 100 मरीज पहुंचते हैं तो इनमें 60 से 70 मरीज आई फ्लू से पीड़ित हैं।

डॉक्टर ने बताया कि आई फ्लू बहुत ज्यादा गंभीर नहीं होता है और आंख को कोई स्थायी नुकसान पहुंचाए बिना एक या दो सप्ताह के भीतर ठीक हो जाता है।

 

डॉक्टर ने बताया कि यह संक्रमण एक आंख से शुरू होता है और जल्दी ही दूसरी आंख में भी फैल जाता है। कोई भी लक्षण दिखने पर आपको तुरंत डॉक्टर के पास जाकर अपना उपचार करवाना चाहिए।