उफनती नदी में बेखौफ खनन माफिया घुसा रहे ट्रैक्टर…यमुना में खनन जोरों पर

उफनती नदी में बेखौफ खनन माफिया घुसा रहे ट्रैक्टर।।।

 

पांवटा साहिब की यमुना नदी में जान जोखिम में डालकर खनन कर रहे माफिया सुबह की पहली किरण के साथ ही एक दर्जन ट्रैक्टर रेत-बजरी भरने यमुना नदी में उतर जाते हैं। पांवटा साहिब की यमुना नदी में बरसाती उफान के बावजूद खनन माफियाओं को रोक पाना नामुमकिन हो रहा है। सुबह-सुबह चार से पांच बजे दर्जनों ट्रैक्टर दनदनाते हुए पांवटा साहिब की सडक़ों पर दौड़ते हुए नजर आते हैं। इस समय यमुना नदी पूरे उफान पर है, जिसके कारण कभी भी कोई बड़ा हादसा हो सकता है।

 

हिमाचल प्रदेश में मानसून 13 जून को दस्तक दे चुका है, जिसके बाद पिछले दस दिनों से भारी बरसात होने के कारण यमुना नदी उफान पर है और खनन माफिया बिना डर धड़ल्ले से खनन कर रहे हैं। खनन माफिया जगह-जगह यमुना में गहरी खुदाई कर रही है। इससे यमुना का बहाव बिगडऩे का खतरा बना हुआ है। पांवटा में यमुना की दो धार बन गई हैं। खनन माफिया ने यमुना के बीच से रास्ता बना लिया। इससे नदी के किनारों का कटाव तेज हो गया है। आसपास के लोगों का कहना है कि माफिया यही चाहता है कि कृषि योग्य भूमि कटकर यमुना में आती रहे और खनन के लिए रेत का क्षेत्र बढ़ता रहे। इस पर प्रशासन का ध्यान ही नहीं है। 

यहां-यहां खनन माफिया सक्रिय…

 

पांवटा साहिब के साथ लगती यमुना नदी में यमुना पुल, नवादा, रामपुरघाट, भूपपुर आदि स्थानों पर अवैध रूप से नदी से खनिज संपदा पर डाका डल रहा है। यहां की गिरि नदी में भी अवैध खनन जारी है। गिरि नदी में बांगरण पुल, सतौन पुल के पास, रेणुका-सतौन मार्ग के साथ लगती गिरि नदी में कई जगह अवैध खनन जोरों पर चल रहा है। बाता नदी के किनारों से भी अवैध रूप से खनिज संपदा रेत, बजरी, पत्थर आदि बिना अनुमति के उठाया जा रहा है। इसके अलावा हिमाचल-उत्तराखंड की सीमा के साथ लगते खोदरी-माजरी, सहस्रधारा में भी अवैध रूप से खनन को अंजाम दिया जा रहा है। अवैध खनन को रोकने के लिए दर्जनों विभागों को सरकार ने जिम्मेदारी सौंपी है, लेकिन अन्य विभाग भी सरकारी संपत्ति को लुटते देख रहे हैं। इससे हर वर्ष प्रदेश सरकार को करोड़ों के राजस्व का चूना लग रहा है। अधिकतर सामग्री उत्तराखंड राज्य के लिए सप्लाई की जा रही है।

 

विभाग समय-समय पर कर रहा कार्रवाई।

माइनिंग जिला अधिकारी सिरमौर कुलभूषण शर्मा ने बताया कि माइनिंग विभाग समय-समय पर खनन माफियाओं के खिलाफ कार्रवाई कर रहा है। पिछले एक सप्ताह में उनके द्वारा यमुना नदी, बाता नदी पर अवैध खनन कर रहे खनन माफियाओं के खिलाफ कार्रवाई करते हुए छह ट्रैक्टर जब्त कर उनसे लगभग 30 हजार जुर्माना वसूला है। वहीं वन विभाग के डीएफओ ऐश्वर्य राज ने बताया कि वन विभाग खनन मफियाओं के खिलाफ लगातार कार्रवाई कर रहा है।