कृषि विभाग द्वारा पांवटा साहिब में तीन कस्टम हायरिंग सेंटर का शुभारंभ का आयोजन

किसानों को खेती के बारे में दी जानकारी…

 

 

पोंटा साहिब में कृषि विभाग द्वारा इलेक्ट्रॉनिक यंत्रों से खेती के बारे में जानकारी देने के लिए शिविर का आयोजन किया गया जिसमें कस्टम हायरिंग सेंटर खोलकर इलेक्ट्रॉनिक यंत्रों से खेती कैसे आसान तरीके से की जाती है उसके बारे में जानकारियां दी इस दौरान डायरेक्टर कृषि विभाग व कृषि विभाग की टीम मौजूद रहे।

जानकारी मुताबिक कृषि विभाग की ओर बद्रीपुर पंचायत में शिविर का आयोजन किया गया। जिसमें किसानों को कई प्रकार की योजनाओं के बारे में बताया गया। प्रदेश सरकार किसानों को सस्ती दर पर कृषि यंत्र एवं कस्टम हायरिंग सेंटर सुलभ कराने के लिए मण्डलवार पंजीकरण की सुविधा दे रही है. प्रदेश के किसान जनपदवार निर्धारित तिथि को पंजीकरण कराकर 50% तक अनुदान पर कृषि यंत्र और 40% अनुदान पर कस्टम हायरिंग सेंटर प्राप्त कर सकते हैं।

 

राज्य में कृषि को बढ़ावा देने और खेती को आसान बनाने के लिए कृषि विभाग द्वारा कृषि यंत्रों और कस्टम हायरिंग सेंटर पर अनुदान दे रही है वही पांवटा साहिब आज तीन कस्टम हायरिंग सेंटर खोले गए।

 

पहले आओ, पहले पाओ की नीति से मिलेगा लाभ।

 

किसानों को इस योजना का लाभ पहले आओ, पहले पाओं के आधार पर मिलेगा. प्री बुकिंग व टोकन जनरेशन के लिए किसान अपने या अपने परिवार के किसी सदस्य के मोबाइल नंबर का इस्तेमाल कर सकते हैं.

 

कृषि विभाग के डायरेक्टर ने अपने संबोधन में बताया कि ने शिविर में मौजूद किसानों को आर्गेनिक खेती के साथ लेमन ग्रास की खेती करने के लिए प्रेरित किया। इस मौके पर किसानों को फसलों में लगने वाली बीमारियों की रोकथाम के बारे में भी जानकारी दी गई।

 

बाइट डायरेक्टर राकेश कृषि विभाग