दिनदहाड़े खोद डाली बाता नदी, बना डाली सडक

ठेकेदार ने किया जमकर अवैध खनन राजस्व विभाग को लगी चपत…

 

पांवटा साहिब में ठेकेदारों द्वारा इन दिनों भ्रष्टाचार फैलाना शुरू कर दिया है ऐसा ही मामला लोनिवि द्धारा किशनपुरा के समीप बननेवाली सडक में भारी धांधली हो रही है बाता नदी में जेसीबी लगाकर करोडो रूपये की रेताबजरी पत्थर आदि अवैध खनन कर निकाल लिए गये है और नदी में चहुंओर गहरे खड्डे कर दिए गये है। जब कि लीज ऐरिया कही अन्यत्र है। और बाता नदी का सीना छलनी कर उत्तराखण्ड के विकास नगर के ठेकेदार की तानाशाही का नमूना देखने को मिल रहा है इतना ही नही विकासनगर के ठेकेदार ने स्थानीय एक छुटभैये ठेकेदार को पैटी कान्ट्रेक्टर के रूप मे काम दे दिया है। और नदी का सीना छलनी करवा दिया गया है।

 

इस बात की भनक जब माइनिंग विभाग को लगी तो विभाग ने मौका पर जेसीबी पकड़ी और दस हजार रूपये का चालान भी काट दिया। इसके अलावा यह भी प्रत्यक्ष रूप मे देखने को मिल रहा है कि जहां सरकार ने करोडो रूपये लगाकर बाता नदी का चेनेलाइजेशन करवाया था। ठेकेदार ने रातो रात चेनेलाइजेशन में लगे पत्थरो को उखाड़ कर बनने वाली सडक में लगा दिया है और आईपीएच विभाग को भी चूना लगा डाला है।

 

जब इस बारे में एक्सईएन अरशद से बातचीत की गयी तो उन्होने लोनिवि के जेई व एसडीओ को बुलाकर लिखित तौरपर ले लिया है कि यदि सरकारी के द्धारा. किए काम मे कोई नुकसान होता है तो उसकी भरपाई लोनिवि करेगा और मामला शान्त कर दिया । अब देखना होगा कि प्रशासन इस मामले को किस दृष्टि से देखता है। अवैध खनन हो रहा है करोडो रूपये का पत्थर नदी से चोरी करके लगादिया गया है। और मात्र दस हजार रूपये का चालान कर मामले को निपटा दिया गया है।

 

एसडीएम पांवटा गुन्जीत सिंह चीमा से बातचीत की गयी तो उन्होने बताया कि वे छुट्टी पर है सोमवार को आने के बाद इस मामले में संज्ञान लेगे।

 

वही इस बारे छात्र के समाजसेवी को से बातचीत की तो उन्होंने कहा कि ऐसे ठेकेदार को ब्लैक लिस्ट करना चाहिए अन्य राज्यों के ठेकेदार यहां पर जमकर खनन कर रहे हैं जमकर भ्रष्टाचार फैला रहे हैं।