नोडल क्लब कोटगा 15 अगस्त में करेंगे स्पेशल प्रोग्राम

नोडल क्लब कोटगा 15 अगस्त में करेंगे स्पेशल प्रोग्राम

जूम मीटिंग के माध्यम से सभी नवयुवक मंडल के सदस्यों ने की बैठक बनाया स्पेशल प्लान

नवयुवक मंडल कोटगा की जूम ऐप के माध्यम से एक बैठक की गई जिसमें 15 अगस्त को लेकर मास्टर प्लान तैयार किया गया कि किस तरह से यह आयोजन किया जाए और क्या-क्या इस कार्यक्रम में रूपरेखा बनाई जाएगी इस दौरान नवयुवक मंडल के सभी सदस्य मौजूद रहे नवीन शर्मा ने बताया कि नवयुवक मंडल कोटगा को अब बड़ी उपलब्धि मिली है अब नोडल क्लब बन गया है ऐसे में अब कार्य भी बढ़ गया है सभी यूथ की टीम को एकजुट होकर काम करना पड़ेगा ताकि गांव का विकास भी हो सके हॉट नोडल क्लब भी मजबूत बन सके वहीं उन्होंने कहा कि आयोजन को सफल बनाने के लिए कई तरह के प्लान तैयार किए गए हैं और आने वाली बैठक में सारा जानकारी दी जाएगी

नवयुवक मंडल के प्रधान नवीन शर्मा ने बताया कि देश में स्‍वतंत्रता दिवस हर साल 15 अगस्त को मनाया जाता है. 15 अगस्‍त 1947 ये वो दिन है जब हमें आजादी मिली. आपको बता दें कि आजादी आधी रात के समय मिली थी. 15 अगस्त के दिन ही हम आजादी का ये दिन मनाते हैं, जानिए इसके पीछे की रोचक कहानी क्या है. क्यों इसी दिन आजादी का जश्न मनाते हैं, ये दिन ही आजादी देने के लिए क्यों चुना गया.

पहले साल 1930 से लेकर 1947 तक 26 जनवरी के दिन भारत में स्वतंत्रता दिवस के रूप में मनाया जाता था. इसका फैसला साल 1929 में हुए भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस अधिवेशन में हुआ था, जो लाहौर में हुआ था. इस अधिवेशन में भारत ने पूर्ण स्वराज की घोषणा की थी. इस घोषणा के बाद सविनय अवज्ञा आंदोलन के लिए भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस द्वारा भारतीय नागरिकों से निवेदन किया गया था साथ ही साथ भारत की पूर्ण स्वतंत्रता तक आदेशों का पालन समय से करने के लिए भी कहा गया.