पांवटा साहिब गुरूद्वारा में बैसाखी पर सैंकड़ो श्रद्धालुओं ने माथा टेका मांगी मन्नत

सुबह से ही कीर्तन का दौर, कवि दरबार भी सजा…

गुरुद्वारा श्री पांवटा साहिब में बैसाखी का पर्व हर्षोल्लास के साथ मनाया गया। इस दौराना बैसाखी के शुभ अवसर पर गुरुद्वारा पांवटा साहिब में माथा टेकने के लिए श्रद्धालुओं की भीड़ उमड़ी। शहर के अलावा दूसरे राज्यों से भी श्रद्धालुओं ने यहां आकर दरबार साहिब पर अपना शीश नवाया। बैसाखी के दौरान पांवटा साहिब गुरुद्वारे को फूलों और लाइटों से पूरी तरह सजाया गया। सुबह से ही गुरुद्वारा साहिब में रागी जत्थों द्वारा कीर्तन किया गया। इस दौरान कवि दरबार में दूर-दूर से आए कवियों ने अपनी-अपनी कविताओं का भी पाठ किया। श्रद्धालुओं के लिए गुरुद्वारे में लंगर का आयोजन चौबीस घंटे किया गया। इस दौरान बाजार में भी रौनक रही। दूसरे राज्यों से आए यात्रियों ने जमकर खरीददारी की। पांवटा शहर के भंगानी साहिब, तीरगड़ी, निहालगढ़, कृपालशिला सभी गुरुद्वारों में श्रद्धालुओं की भारी भीड़ जमा हुई। बता दें कि पांवटा साहिब गुरुद्वारे में 12 अप्रैल को श्री अखंड पाठ साहिब के साथ शुरू हो गया था। बुधवार को हाईटेक टेक्रोलॉजी से तैयार हुए गुरु द्वार में भोग श्री अखंड पाठ का शुभारंभ किया गया था। प्रबंधक समिति प्रधान एडवोकेट हरजिंद्र सिंह धामी, मीत प्रधान सरदार जोगा सिंह, महासचिव सरदार हरप्रीत सिंह रतन और मैनेजर सरदार जगीर सिंह ने जानकारी देते हुए बताया कि बैसाखी कार्यक्रम 12 अप्रैल को श्री अखंड पाठ साहिब दरबार श्री पांवटा साहिब में आरंभ हो गया था।

 

शुक्रवार को भोग श्री अखंड पाठ साहिब, निशान साहिब झुलाने की सेवा, अमृत संचार दरबार श्री पांवटा साहिब में प्रात: 11 बजे हुआ। इस मौके पर कथा वाचक भाई बूटा सिंह जी एवं विद्वान सज्जन, ढाडी जत्था भाई परमजीत सिंह जी कुराली वाले विशेष तौर पर संगत के साथ पहुंचे। इस दौरान गुरु जी का लंगर अटूट बरताया गया। प्रात: नौ बजे से सायं चार बजे तक खुला दीवार सजा। बैसाखी के इस शुभ अवसर पर रागी सिंह, भाई जगजीत सिंह जी नूर हजूरी रागी दरबार साहिब श्री अमृतसर साहिब, बीबी रविंद्र कौर जी पटियाले वाले प्रात: 10 बजे कीर्तन में भाग लिया। प्रबंधन ने बताया कि गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी श्री पांवटा साहिब एवं संगतों के सहयोग के साथ संत बाबा कश्मीर सिंह जी एवं संत बाबा सुखविंदर सिंह जी भूरी वालों की ओर से शुक्रवार को पहली मंजिल के लैंटर की सेवा की गई। प्रबंधक कमेटी के मैनेजर जगीर सिंह ने बताया कि बैसाखी को लेकर गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी द्वारा सभी तैयारियां पूरी कर ली गई थी।