पांवटा साहिब में 4 मनोनीत नगर परिषद के नाम फाइनल

मनोनीत पार्षद टिकटिकी लगा रहे लोगों के हाथ रहेंगे खाली सूत्र

पांवटा साहिब में 4 मनोनीत नगर परिषद के नाम फाइनल

शिमला दौड़ लगा रहे नेता को उद्योग मंत्री ने लगाई थी क्लास…

 

देवभूमि हिमाचल प्रदेश में सत्ता परिवर्तन के बाद नगर परिषद और नगर निगम में पार्षदों के मनोनित होने का सिलसिला जारी है। नगर परिषद पांवटा साहिब में चार पार्षद मनोनित होने है। नियम के तहत पार्षद का चुनाव हार चुके मनोनित पार्षद नहीं हो सकते। इसलिए अब कांग्रेस पार्टी के समर्पित और वफादार वर्कर ही पार्षद हो सकते हैं।

 

सूत्रों की मानें तो मनोनीत पार्षद के लिए कई लोग कसरत कर रहे हैं शिमला तक दौड़ लगा रहे हैं। जबकि किरनेश जंग ने अभी तक अपने पत्ते नहीं खोले हैं किरनेश जंग बिना दौड़ के ही सबसे आगे बैटिंग कर रहे हैं।

दूसरी बात इस वक्त चौधरी किरनेश जंग ही अपने समर्थित लोगों को एमसी में मनोनित करेगे। हरप्रीत बीजेपी में जा चुके है। अवनीत लांबा और असकर अली भी अपने लोगो को एमसी में लाना चाहते है। अनिंदर सिंह नॉटी कांग्रेस छोड़ चुके है। मनीष ठाकुर रोहरू वाले भी कांग्रेस में छोड़ चुके है। अब जंग ही है। और जंग के बिना कुछ हुआ तो कांग्रेस कोलोकसभा में भारी नुकसान होगा। मनोनित पार्षद के लिए अवनीत लांबा, असगर अली आदि नेताओ ने सूची दी है। लेकिन अंतिम मुहर जंग की ही लगेगी। नही तो लोक सभा चुनाव में कई लोग कांग्रेस को छोड़ सकते है।

 

बताया यह भी जा रहा है कि शिमला दौड़ लगा रहे नेताओं को हाल ही में ही उद्योग मंत्री ने कहीं खरी-खोटी भी सुनाई हैं। ऐसे में कुल मिलाकर उद्योग मंत्री हर्षवर्धन चौहान और किरनेश जंग नगर परिषद पांवटा के मनोनीत पार्षद पर मुहर लगाएंगे।

 

वही सूत्र यह भी बता रहे हैं कि पांवटा साहिब से 4 लोगों को चुन लिया गया है और जल्द नाम की घोषणा की जाएगी