पोंटा साहिब मे जिला बाल सरंक्षण कार्यालय द्वारा मुख्यमंत्री सुखाश्रय योजना बारे विशेष खंड स्तरीय शिविर का आयोजन।

पोंटा साहिब मे जिला बाल सरंक्षण कार्यालय द्वारा मुख्यमंत्री सुखाश्रय योजना बारे विशेष खंड स्तरीय शिविर का आयोजन।

जिला बाल सरंक्षण इकाई सिरमौर द्वारा पोंटा साहिब मे मुख्यमंत्री सुखाश्रय योजना बारे विशेष खंड स्तरीय शिविर का आयोजन किया गया । इस शिविर का आयोजन खंड विकास अधिकारी, पोंटा साहिब की सभागार मे किया गया ।

 

 

शिविर का आयोजन बाल विकास परियोजना अधिकारी पोंटा साहिब, गीता सिंगटा की अध्यक्षता मे हुआ । शिविर का मुख्य उद्देश्य अनाथ बच्चों के लिए चलाई जा रही मुख्य मंत्री सुखाश्रय योजना तथा बच्चों से सम्बन्धित अन्य कानूनों व योजनाओ की जानकारी प्रदान करना था। बाल विकास परियोजना अधिकारी गीता सिंगटा ने बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ तथा पी सी पी एन डी टी कानून (भ्रूण हत्या निषेध) 1994,की जानकारी दी।शिविर के दौरान लीगल कम प्रोबेशन ऑफिसर मोहम्मद शमीम ने मुख्य मंत्री सुखाश्रय योजना के बारे मे विस्तार से जानकारी दी।

 

 

उन्होंने बताया की ऐसे सभी बच्चे जिनकी उम्र 27 वर्ष से कम है तथा जिनके माता पिता की मृत्यु हो चुकी है मुख्य मंत्री सुखाश्रय योजना के पात्र है। उन्होंने शिविर मे उपस्थित सभी पर्यवेक्षक तथा कार्यकर्ताओं को इस योजना का लाभ लेने के लिए ज़रूरी फॉर्म भी उपलब्ध करवाये गए। वो सभी अनाथ बच्चे जिनकी उम्र 27 वर्ष से कम है वो इन फॉर्म के माध्यम से इस योजना का लाभ ले सकते है।

 

 

योजना के प्रथम चरण मे ऐसे अनाथ बच्चों का सर्वे करना था जिनकी उम्र 27 वर्ष से कम है तथा पूर्ण अनाथ है।उन्होंने सभी पर्यवेक्षक तथा कार्यकर्ताओ से अनुरोध किया कि उनके सर्वेक्षण क्षेत्र मे कोई भी अनाथ बच्चा सर्वे मे छुटना नही चाहिए। मुख्य मंत्री सुखाश्रय योजना के अंतर्गत पात्र बच्चे उच्च शिक्षा, तकनीकी शिक्षा, विवाह के लिए, घर बनाने के लिए, जो भूमिहीन है भूमि के लिए तथा कोचिंग के लिए सम्बन्धित फॉर्म भर कर जिला बाल सरंक्षण इकाई के माध्यम से आवेदन कर सकता है।

 

 

उन्होंने बताया कि जिला बाल सरंक्षण कार्यालय के अधिकारी इन सभी अनाथ बच्चों से उनके घर जाकर मिल रहे है तथा उन्हे इस योजना बारे विस्तार से जानकारी दे रहे है। उन्होंने बाल विकास परियोजना पोंटा साहिब की सभी पर्यवेक्षक तथा आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओ से निवेदन किया कि वो सभी इन अनाथ बच्चों को इस योजना बारे घर घर जाकर जानकारी दे तथा इच्छुक और पात्र बच्चो को योजना का लाभ लेने के लिए सम्बन्धित फॉर्म भरने तथा ज़रूरी दस्तावेज़ बनवाने मे उनकी मदद करे।

 

इस शिविर मे जिला बाल सरंक्षण इकाई सिरमौर से लीगल कम प्रोबेशन ऑफिसर मोहम्मद शमीम, बाहरी कार्यकर्ता आईशा, गुलाब सिंह, बाल विकास परियोजना अधिकारी गीता सिंगटा, सभी आई सी डी एस पर्यवेक्षक, आंगन बाडी कार्यकर्ताओ ने भाग लिया।