बरसात के मौसम में फिर आई विभाग को सतौन भटरोग वैकल्पिक मार्ग की याद

बरसात के मौसम में फिर आई विभाग को सतौन भटरोग वैकल्पिक मार्ग की याद

सतोन भटरोग पुरुवाला को जोड़ने वाली मुख्य सड़क पिछले 9 वर्षों से अनदेखी की शिकार है प्रशासन को यह सड़क तभी याद आती है जब सारे वैकल्पिक मार्ग बंद हो जाते हैं और प्रशासन के हाथ खड़े हो जाते हैं दरअसल बरसात के मौसम में जब चारों तरफ से सड़कें बंद हो जाती है तो आखिर क्यों विभाग व सरकार को वैकल्पिक मार्ग की याद आती है। बरसात से पहले जब विभाग के पास ग्रामीण इस सड़क के बारे में बात करने विभाग व सरकार के पास जाते हैं तो कोई भी सीधे मुंह बात करने के लिए तैयार तक नहीं होते।
सतौन भटरोग सालवाला वैकल्पिक मार्ग ही एकमात्र ऐसा मार्ग है जो बरसात के समय में अगर कोई व्यक्ति बीमार हो जाए और उसे हॉस्पिटल ले जाना हो तो कम समय में यही मार्ग लाभदायक है।
पूर्व में रही भाजपा सरकार से भी लगातार समस्त ग्राम वासियों ने इस सड़क के बारे में बहुत बार विनती की लेकिन इस सड़क की डीपीआर तो बनकर तैयार हो गई थी पर धरातल पर कार्य शुरू नहीं हो सका।
अब समस्त ग्राम वासी प्रदेश के माननीय उद्योग मंत्री श्री हर्षवर्धन ठाकुर जी से विनम्र निवेदन करता है कि बरसात के बाद *सतौन -भट्टरोग* सड़क की डीपीआर जो वर्षों से बंद पड़ी है उसको तुरंत बाहर निकाली जाए और इस रोड के टेंडर करवा कर इसका कार्य शुरू करवाया जाए!