यमुना घाट उत्सव में पहुंचेंगे केंद्रीय जल शक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत

शहर को साफ सुथरा बनाने में जूता नगर परिषद यमुना स्नान घाट को दुल्हन की तरह सजाने का कार्य शुरू

 

गुरु भूमि पांवटा साहिब में यमुना घाट उत्सव मनाया जा रहा है जिसमें केंद्रीय जल शक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत पहुंचेंगे इस कार्यक्रम को लेकर प्रशासन और हरी ओम विकास समिति ने भी कमर कस ली है।

 

जानकारी मुताबिक पांवटा साहिब के यमुना स्नान घाट पर यमुना घाट उत्सव 2023 धूमधाम से मनाया जा रहा है ताकि मां यमुना नानघाट को चार चांद लगे और यमुना नदी की पवित्रता और बढ़ती रहे। बताते चलें कि भारत की सबसे पवित्र और प्राचीन नदियों में यमुना का स्मरण गंगा के साथ ही किया जाता है। इन नदियों के किनारे और दोआब की पुण्यभूमि में ही भारतीय संस्कृति का जन्म हुआ और विकास भी । यमुना केवल नदी नहीं है। इसकी परंपरा में प्रेरणा, जीवन और दिव्य भाव समाहित है। कृष्ण की बाल लीलाओं से लेकर अवतारी चरित तक कितने ही आख्यान यमुना और कालिंदी से जुड़े हैं।

यमुना को यमराज की बहन माना गया है। दोनों का स्वरूप काला बताया जाता है जबकि दोनों ही परम तेजस्वी सूर्य की संतान है। कहते हैं कि सूर्य की एक पत्नी छाया थी। छाया दिखने में श्यामल थी। इसी वजह से उनकी संतान यमराज और यमुना भी श्याम वर्ण पैदा हुए। यमराज ने यमुना को वरदान दिया था कि यमुना में स्नान करने वाला व्यक्ति को यमलोक नहीं जाना पड़ेगा। संवत्सर शुरु होने के छह दिन बाद यमुना अपने भाई को छोड़ कर धरा धाम पर आ गई थी।

 

वही इस बारे में पोंटा प्रशासन अधिकारियों से जब बातचीत की गई तो उन्होंने कहा कि 22 अप्रैल दिन शनिवार को केंद्रीय जल शक्ति मंत्री 10:00 बजे के करीब यहां पर पहुंचेंगे और यमुना स्नान घाट पर आरती में भाग लेंगे तत्पश्चात पांवटा साहिब के रामलीला मैदान में एक बड़ी जनसभा को भी संबोधित करेंगे।

 

वहीं प्रशासन की टीम में यमुना स्नान घाट को दुल्हन की तरह सजाने का कार्य शुरू कर दिए हैं नगर परिषद के सैकड़ों सफाई कर्मचारी मुख्य बाजार से लेकर यमुना स्नान घाट तक सफाई अभियान में जुटे हैं।