समाज को दिशा देने वाला अद्भुत व्यक्तित्व.

समाज को दिशा देने वाला अद्भुत व्यक्तित्व.

जिला सिरमौर के दुर्गम क्षेत्र शिलाई विधानसभा का ऐसा व्यक्तित्व जिन्होंने अपनी ईमानदारी, लगन, अनुशासन, सादगी और त्याग के बदोलत शिक्षा, स्वास्थ्य, लोक संस्कृति, कृषि और बागवानी क्षेत्र में जनता के बीच निष्काम सेवा कार्य से अपनी अलग पहचान स्थापित की है। इसीलिए ये आज समाज में प्रतिष्ठा और सम्मान के साथ प्रसिद्धि प्राप्त कर चुके हैं ऐसे व्यक्तित्व है शिलाई विधानसभा के दुर्गम क्षेत्र गांव चिम्मू (मिल्ला) से रामभज चौहान जो अपने ईमानदारी अनुशासन के जाने जाते रहे हैं जो एक कला अध्यापक के रूप में बेहतरीन सेवाएं प्रदान कर चुके हैं ओर जिनको ईमानदारी और अनुशासन के लिए जाने जाते रहे है और पूर्व में रहें उनके तमाम विधार्थी उनको बड़े ही आदर सम्मान और अनुशासन के भाव से देखते हैं तो जिन्होंने विभिन्न स्कूलों में अपनी बेहतरीन सेवाएं प्रदान की है और सतौन में अपने घर के समीप वालें क्षेत्र में सेवानिवृत्ति के पश्चात कृषक के रूप में ख्याति अर्जित की है जहां पर उन्होंने विभिन्न प्रकार के खेती करनी प्रारम्भ की जैसे पशुपालन से दुग्ध उत्पादन, जैविक खेती ओर औषदीय पौधों के जनक के रूप में जाना जाता है और साथ ही चन्दन की खेती ,अदरक की खेती एवं कुशलता से कृषि कार्य में आधुनिक तकनीक से अच्छी आय अर्जित कर रहे हैं तो साथ ही जो समाजसेवा में प्रत्येक गतिविधियों में भी अग्रणी भूमिका में रहते हैं जिसमें वे हितेषी संस्था,हाटी किसान संघ और साईं सेवा समिति के माध्यम से समाजसेवा करते रहे साथ ही चुडेशवर सेवा समिति के संरक्षक के रूप में भी अपनी सेवाएं प्रदान कर रहे हैं। और साथ ही हिमाचल प्रदेश कृषि विश्वविद्यालय में भी एक रिसोर्स पर्सन के रूप में समय-समय बुलाया जाता है इस प्रकार रामभज चौहान के व्यक्तित्व पर जितना लिखा जाए समझा जाए शाय़द कम ही होगा ऐसे समाजसेवी और संघर्षशील व्यक्ति उम्र के इस पड़ाव में आज के परिप्रेक्ष्य में कम ही देखने और सुनने को मिलते हैं।

स्वतन्त्र लेखक- हेमराज राणा मिल्ला, सिरमौर