पांवटा साहिब में वार्ड नंबर 9 और 10 को किया “स्पेशल फोकस एरिया में शामिल….

 पांवटा साहिब में वार्ड नंबर 9 और 10 को किया “स्पेशल फोकस एरिया में शामिल….

 

नशा और अन्य क्राइम रोकथाम के लिए पुलिस और पब्लिक टीम तैयार… DSP

स्पेशल फोकस एरिया पहल के तहत पांवटा साहिब में वार्ड नंबर 9 और 10 को स्पेशल फोकस एरिया के रूप में पुलिसिंग और क्राइम के नजरिए से चिन्हित किया गया है इस क्षेत्र में होने वाले ड्रग्स और दूसरे क्राइम पर नजर रखने के लिए स्थानीय लोगों और पुलिस की टीम भी बनाई गई है।

 

इस मौके पर बीट कांस्टेबल *अरुण व एंटी थेफ्ट सेल सदस्य सीटी विक्रम जीत ने राम मंदिर में वार्ड नंबर १ पांवटा साहिब के निवासियों के साथ उस क्षेत्र के अपराध के संबंध में एक बैठक की जिसमें वार्ड नंबर १ द्वारा नशीली दवाओं के उपयोग और बिक्री पर विशेष ध्यान दिया गया और वार्ड 9 और 10 १

 

बैठक में उन्हें अपने बीट कॉन्स्टेबल के बारे में भी बताया गया जो उस क्षेत्र में पुलिस मैन के रूप में फर्स्ट रिस्पांडर होंगे। उनका फोन नंबर उनके साथ साझा किया गया है और उनसे आग्रह किया जाता है कि वे पुलिस साथी बनें और तुरंत सूचित करें जब भी उनके पास ड्रग्स या ड्रग्स पेडलर्स के बारे में कोई जानकारी हो तो वे किसी भी समय बीट कॉन्स्टेबल को कॉल कर सकते हैं। बेहतर संचार और प्रतिक्रिया समय कम करने के लिए एक वाटसएप ग्रुप भी बनाया गया है।.

 

उपयोग और बिक्री पर विशेष ध्यान दिया गया.

 

और वार्ड 9 और 10 बैठक में उन्हें अपने बीट कॉन्स्टेबल के बारे में भी बताया गया जो उस क्षेत्र में पुलिस मैन के रूप में फर्स्ट रिस्पांडर होंगे। उनका फोन नंबर उनके साथ साझा किया गया है और उनसे आग्रह किया जाता है कि वे पुलिस साथी बनें और तुरंत सूचित करें जब भी उनके पास ड्रग्स या ड्रग्स पेडलर्स के बारे में कोई जानकारी हो तो वे किसी भी समय बीट कॉन्स्टेबल को कॉल कर सकते हैं। बेहतर संचार और प्रतिक्रिया समय कम करने के लिए एक वाट्सएप ग्रुप भी बनाया गया है। .

 

वह इस बारे में जानकारी देते हुए डीएसपी रमाकांत ठाकुर ने बताया कि पोंटा साहिब के वार्ड नंबर 9 और 10 में नशा और दूसरे बड़े क्राइम क्या सर सबसे अधिक रहते हैं अक्सर | सामने आता है कि यहां पर बड़े ड्रग्स माफिया भी सक्रिय रहते हैं इन पर अंकुश लगाने के लिए आम आदमी का सहयोग सबसे अधिक जरूरी रहेगा जिसके लिए पुलिस और स्थानीय लोगों की एक टीम बनाई गई है उम्मीद है कि भविष्य में नशे के कारोबार को समाप्त करने में स्थानीय लोग बेहतरीन भूमिका अदा करेंगे।