कांग्रेस को अपने विधायकों पर विश्वास नहीं इस लिए असंवैधानिक तरीके से 6 सीपीएस बनाए है: Cm

कांग्रेस को अपने विधायकों पर विश्वास नहीं इस लिए असंवैधानिक तरीके से 6 सीपीएस बनाए है: Cm…

 

कांग्रेस नेता सत्ता सुख भोगने के लिए गरीबों पर बोझ डाल रहे है….

 

कांग्रेस को अपने विधायकों पर विश्वास नहीं हैं इस लिए उन्हें बांधने के लिए 6 सीपीएस बनाए गए है। यह बात पूर्व मुख्यमंत्री एवं नेता प्रतिपक्ष ने जयराम ठाकुर ने गुरू भूमि पांवटा साहिब के लोक निर्माण विश्राम गृह में पत्रकारों के कैमरे ऑन होते हुए कही।

 

पूर्व सीएम ने कहा कि एक महीने बाद कांग्रेस ने आधा अधुरा मंत्रीमंडल का गठन किया है। जिसमें 6 मुख्य संसदीय सचिव को बनाया गया है जो की असंवैधानिक है। कांग्रेस ने सरकार बनाये रखने के लिए यह काम किया है साथ ही सरकार ने अन्य तीन लोगों को केबिनेट रैंक का दर्जा दिया है। जिससे प्रदेश की जनता पर बोझ बढ़ेगा।

 

जयराम ठाकुर ने कहा कि पूरे विधानसभा सत्र में कांग्रेस सरकार के नेताओं ने हिमाचल में खर्च कम करने की बात की थी, पर छह सीपीएस बनाने से उन्होंने हिमाचल की गरीब जनता पर करोड़ों रुपए का बोझ डाल दिया है । | कांग्रेस नेता सत्ता सुख भोगने के लिए गरीबों पर बोझ डाल रहे हैं, बड़ी जल्दी प्रदेश सरकार 3000 करोड़ का एक कर्ज भी लेने जा रही है उसके लिए विधानसभा में इन्होंने बिल भी पारित किया | है, शायद यह कर्ज केवल सीपीएस बनाने के लिए ही बनाए गए हैं

 

उन्होंने कहा कि अभी तक हिमाचल पर 74622 करोड़ का कर्ज है और अगर प्रदेश सरकार 3000 करोड़ का और कर्ज लेती है तो यह बढ़कर 77622 करोड हो जाएगा। जयराम ठाकुर ने कहा कि सरकार ने हिमाचल की गरीब जनता को एक और तोहफा दिया है शनिवार रात को प्रदेश सरकार ने डीजल पर 3.01 रुपए का वेट बढ़ा दिया है पहले डीजल पर 4.40 वेट लगता था जिसको बढ़ाकर अब प्रदेश सरकार ने 7.40 कर दिया है।

 

डीजल के दामों में बढ़ोतरी सीधा-सीधा यह दिखाता है कि प्रदेश में माल भाड़े में बढ़ोतरी तय है और किसानों पर भी इसका बोझ बढ़ने वाला है।

 

हिमाचल में प्रति लीटर डीजल अब 86 रुपए का | मिलने वाला है। जयराम ठाकुर ने कहा कि कांग्रेस

 

ने सरकार में आते ही ऐसे बिना कैबिनेट के ही

 

सरकारी संस्थानों को डिनोटिफाई किए है जो

 

केबिनेट बैठक में पास हुए थे। उन्होंने कहा कि प्रदेश में कांग्रेस सरकार बनते ही जनता 10 दिन के अंदर ही सड़कों पर उतरी है। जिससे साफ दिखता है की प्रदेश सरकार बदले की भावना से काम कर रही है।

 

इस दौरान पूर्व ऊर्जा मंत्री एवं विधायक सुखराम चौधरी, पच्छाद की विधायक रीना कश्यप, बलदेव तोमर आदि मौजूद थे।