कृष्णा कालोनी के लोगों ने गंदे पानी को लेकर एसडीएम को भेजा पत्र, उठाई जल्द से जल्द राहत देने की मांग

कृष्णा कालोनी के लोगों ने गंदे पानी को लेकर एसडीएम को भेजा पत्र, उठाई जल्द से जल्द राहत देने की मांग…

 

पांवटा साहिब के वार्ड नंबर-10 देवीनगर की कृष्णा कालोनी के निवासियों ने एसडीएम पांवटा को एक पत्र लिखकर अपनी शिकायत दर्ज करवाई। शिकायत में उन्होंने कहा कि देवीनगर वार्ड नंबर-11 के गांव का पानी एक गंदे नाले के रूप में शनि मंदिर के पीछे बने एक मकान के बगल से पाइपों के जरिए नीचे के खेतों में छोड़ दिया जाता है। उन्होंने कहा कि वहां पर यह गंदा पानी गन्ने के खेतों में बहता रहता है जिससे पूरे वार्ड में गंदगी फैल जाती है। पानी भर जाने के बाद यह गंदा पानी यहां बने मकानों के पीछे तथा खाली प्लाटों में भर जाता है, जिसके कारण इस गंदे पानी से बदबू तथा मच्छर में मक्खियां पैदा होती हैं। जिसके कारण कृष्णा कालोनी में संक्रमण बीमारी फैलने का खतरा बना रहता है। उन्होंने एसडीएम पांवटा को शिकायत के माध्यम से बताया कि पिछले तीन वर्षों से निरंतर इस समस्या के समाधान हेतु लोगों द्वारा प्रशासन व नगर परिषद द्वारा पत्राचार किया जा रहा है, लेकिन अब तक इस पर कोई ठोस कार्रवाई नहीं की गई है। उन्होंने कहा कि पानी भरने से मकानों को भी नुकसान पहुंच रहा है।

कृष्णा कालोनी के निवासियों ने एसडीएम पांवटा से निवेदन करते हुए कहा है कि इस गंदे पानी का निस्तारण शीघ्र किया जाए। पत्र के माध्यम से लोगों ने सुझाव देते हुए कहा कि वार्ड में पड़ी सरकारी जमीन पर सोकपिट बनाकर इस समस्या का समाधान हो सकता है। उन्होंने कहा कि इस बारे में कई बार नगर परिषद पांवटा के ईओ व प्रशासनिक अधिकारी से मिल चुके हैं। लेकिन अभी तक समाधान नहीं हुआ है। इस दौरान मनोज शर्मा, दीप चंद शर्मा, प्रताप शर्मा, अमित शर्मा आदि सहित कई कालोनी वासियों ने एसडीएम पांवटा को पत्र सौंपा। वहीं वार्ड नंबर-10 के पार्षद मधुकर डोगरी ने बताया कि वह पानी की निकासी के लिए सोकपिट बने हुए हैं। उन्होंने कहा कि उक्त स्थान पर जमीन मालिक की एनओसी मिलते ही सोकपिट बना दिए जाएंगे।

 

शिकायत पर जल्द होगी कार्रवाई

उधर, एसडीएम पांवटा साहिब गुनजीत सिंह चीमा से बात की, तो उन्होंने बताया कि उनको अभी पांवटा में ज्वाइन किए हुए दो दिन ही हुए हैं। यदि ऐसी कोई शिकायत आई है, तो वह इसके बारे में जल्द ही कोई कार्रवाई करेंगे