जिला परिषद सदस्यों की बैठक में पांवटा साहिब के जनहित के मुद्दे उठाए प बीडीसी चेयरमैन ने

जिला परिषद सदस्यों की बैठक में पांवटा साहिब के जनहित के मुद्दे उठाए प बीडीसी चेयरमैन ने पांवटा के मीडिया को दी हितेंद्र कुमार ने जानकारी…

 

जिला परिषद सदस्यों की बैठक के दौरान पोंटा साहिब के बीडीसी चेयरमैन हितेंद्र कुमार ने भी पांवटा के जनहित के मुद्दे बैठक में सबके समक्ष रखे

 

पावटा बीडीसी चेयरमैन ने जानकारी देते हुए बताया कि पोंटा साहिब में आवारा पशुओं की समस्याएं शहर वासियों व ग्रामीण वासियों के लिए जी का जंजाल बन गई है आवारा पशुओं की वजह से जहां फसलें बर्बाद हो रही है तो एक्सीडेंट की वारदातें भी कहीं सामने आ चुकी है जिस वजह से कई लोगों की जानें जा चुकी है वही दूसरा मामला फसल का हुआ नुकसान का मुआवजा किसानों को दिया जाए ताकि जो किसानों को भारी नुकसान पहुंचा है मुआवजा मिलने पर किसान थोड़ी राहत की सांस ले सके वही उन्होंने कहा कि मिश्रवाला के समीप लंबे बरसों से खाले की समस्या समाधान के लिए भी उन्होंने जिला परिषद सदस्यों से गुहार लगाई है कि इस मामले को भी उठाया जाए

वहीं उन्होंने बताया कि आज सिरमौर जिला परिषद अध्यक्षा सीमा कन्याल ने जिला के सभी विभागों के अधिकारियों से आग्रह किया है कि परिषद सदस्यों द्वारा जनहित में उठाये गये विभिन्न मामलों पर निर्धारित समयावधि में कार्रवाई करना सुनिश्चित बनाएं।

 

उन्होंने कहा कि कार्यों में अनावश्यक विलंब होने से जहां सम्बन्धित व्यक्ति को इसका लाभ नहीं मिल पाता है वहीं कार्य पर होने वाले व्यय में भी कई गुणा बढ़ौतरी हो जाती है। उन्होंने कहा कि परिषद की यह बैठकें जनहित में अत्यंत महत्वपूर्ण हं और सभी सक्षम अधिकारियों को इसमें अपनी शिरकत सुनिश्चित बनानी चाहिए।

 

सीमा कन्याल मंगलवार को नाहन में आयोजित जिला परिषद की त्रैमासिक बैठक की अध्यक्षता कर रही थीं।

 

जिला परिषद अध्यक्षा ने कहा कि वर्ष 2021 से कई मामले एजेंडे में लंबित है जिनका निपटारा अभी तक नहीं हुआ है। उन्होंने कहा कि जिन कार्यों अथवा मामलों में वित्तीय व्यय बहुत आंशिक है उनका निपटारा समय पर किया जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि जनता की भावनाओं के अनुरूप जो भी सदस्य किसी समस्या अथवा मामले को उठाते हैं उनका समाधान निश्चित अवधि में होना चाहिए तभी ग्रास रूट तक लोगों को लाभ मिलेगा। उन्होंने अधिकारियों से आग्रह किया कि जिला के दूरदराज के क्षेत्रों में सर्दियों के दृष्टिगत बारिश व बर्फबारी की संभावाना को देखते हुए मूलभूत सुविधाएं जैसे सडक, पेयजल, स्वास्थ्य सेवाएं और बिजली की व्यवस्था पर लगातार निगरानी रखी जाए ताकि लोगों को दिक्कतों का सामना न करना पड़े। उन्होंने जिला की ऐसी सड़कों पर जहां दुर्घटनाओं की संभावना बहुत अधिक है में क्रेश बैरियर लगाने का आग्रह लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों से किया ताकि दुर्घटनाओं से बचा जा सके।

 

जिला परिषद अध्यक्षा सीमा कन्याल ने हरिपुरधार से बड़ौल सड़क पर क्रैश बैरियर लगाने, उठाउ पेयजल योजना बड़ोल को शीघ्र आरम्भ करने, गताधार के लिए एचआरटीसी की बस चलाने, दिल्ली गेट नाहन से बनोग – यशवंत बिहार तक बस सेवा प्रारम्भ करने, वन भूमि अधिकारी कानून 2006 के अंतर्गत भूमिहीनों को जमीन मिलने की संभावना आदि विषय रखते हुए सम्बन्धित अधिकारियों से इन पर कार्रवाई करने का आग्रह किया।

 

जिला परिषद सदस्य सतीश ठाकुर द्वारा राजकीय उच्च विद्यालय धारोटी के भवन निर्माण में हो रही देरी का मुददा, डिग्री कॉलेज राजगढ़ खेल मैदान निर्माण में विलंब का और सोलन मीनस और छैला – नैरीपुल कुमारहटटी सड़क उन्नयन का मामला भी उठाया।

 

जिला परिषद सदस्य माम राज ठाकुर ने विभिन्न स्कूलों में अध्यापकों के रिक्त पदों, लोगों के घरों के उपर से गुजर रही बिजली की तारों को हटाने, सतौन से रेणुका जी मार्ग पर सतौन के साथ खाले में पुल निर्माण, धारवा से भटोड़ी गांव सड़क निर्माण, आईआरडीपी में गलत लोगों के चयन, आदि का मामला भी उठाया।

 

सदस्य आनंद परमार ने नारग-ओच्छघाट सड़क की दयनीय स्थिति, मड़ी का घाट डिंगर मथानन सड़क के कार्य में प्रगति लाने और क्रश बैरियर लगाने, नारग औच्छघाट सड़क की दयनीय स्थित, जल जीवन मिशन के तहत हुए कार्यो, आदि मामले प्रस्तुत किए।

 

जिला परिषद सदस्य अमृत कौर ने गांव पल्होड़ी में नदी के पानी से तेज बहाव के कारणा भूमि कटाव, पल्होड़ी में मोबाईल टावर स्थापित करने, तिरूपति फार्मा यूनिट के तीन प्लांट से निकलने वाले गंदे पानी की समस्या को उठाया। सदस्य सरवन कुमार ने गांव भाटांवाला व गांव किशनपुरा में पानी की समस्या और गांव केदारपुर में सड़क पर चर्चा की। सदस्य ओम प्रकाश ने धारटीधार के मैन रोड़ और सड़कों की दयनीय स्थिति, खंबा नगर से बाईला रोड़ के अधूरे निर्माण कार्य, माहेत से खाली छयोन नाड़ी सड़क, खैर से ठक्कर कुज्वाला सड़क, सिंचाई योजना भनेत – हल्द्वाड़ी में अनावश्यक विलंब, मैन रोड़ धौलाकुंआ से गिरी नगर रोड़ माजरी में भूमि कटाव, ग्राम पंचायत बिरला और ग्राम पंचायत थाना कसोगा में पेजलल समस्या आदि विषय प्रस्तुत किए।

 

सदस्य नीलम देवी ने बाग पशोग में पेयजल की आपूर्ति, राष्ट्रीय उच्च मार्ग डुंगाघाट बागथन पर बने तिकोने को गोल करने, नावल सिरमौर मंदिर – जंगाजी की सेर सड़क को पक्का करने, सरांहा मताहन बस सेवा को पुनः आरम्भ करने, कांगर घाट के रेन शैल्टर को पुनः बनवाने की मांग रखी। सदस्य विद्या देवी ने ग्रामीण रोजगार सेवक एवं तकनीकी सहायकों की नियुक्ति, रोनहाट रास्त मानल तांडियों सड़क, प्रवाह पेयजल योजना मानल के अपवर्धन के मामले रखे। सदस्य चमेली देवी, पुष्पा देवी, निर्मला देवी आदि ने भी अपने -अपने विषय रखे।

 

जिला पंचायत अधिकारी एवं सचिव जिला परिषद अंचित डोगरा ने बैठक का संचालन करते हुए सभी अधिकारियों से आग्रह किया कि सभा में जितने भी मामले सदस्यों द्वारा रखे गए हैं का समयबद्ध निपटारा किया जाए।

 

जिला परिषद उपाध्यक्षा अंजना शर्मा, खंड विकास समितियों के अध्यक्ष, खंड विकास अधिकारी, ग्रामीणा विकास एवं पंचायती राज अधिकारियों के अलावा विभिन्न विभाग के अधिकारी भी इस अवसर पर उपस्थित रहे।