नेशनल हाईवे 707 पर काम करें कंपनियों की अब उल्टी गिनती शुरू

नेशनल हाईवे 707 पर काम करें कंपनियों की अब उल्टी गिनती शुरू

 

उद्योग मंत्री ने प्रशासन को दिए सख्त निर्देश…

 

पावटा शिलाई गुमा नेशनल हाईवे 707 पर काम कर रही कंपनियों की बढ़ेगी अब मुश्किल उद्योग मंत्री बोले किसी भी सूरत पर बख्शा नहीं जाएगा कंपनियों की लापरवाही दरअसल राष्ट्रीय राजमार्ग 707 क्षेत्र वासियों के लिए जी का जंजाल बना हुआ है। यहां राजमार्ग प्राधिकरण निर्माण कम और विनाश ज्यादा कर रहा है। जिसके कारण राजमार्ग प्राधिकरण सवालों के घेरे में आ गया है।

 

पांवटा साहिब पहुंचे उद्योग मंत्री व शिलाई के विधायक हर्षवर्धन चौहान ने मीडिया के सवालों के जवाब देते हुए कहा लापरवाह कंपनियों की लापरवाही से क्षेत्र की जड़ी बूटियां नष्ट हो गई है पानी सूत्र बर्बाद हो रहे हैं किसानों की फसलें और भूमि तहस-नहस हो गई है क्षेत्र के सैकड़ों लोगों के बेरोजगार हो गए हैं क्षेत्र की हरियाली में कोहराम मच गया है हिमाचल का पहला ग्रैंड और है लेकिन हरियाली तो छोड़िए चारों तरफ सफेद चादर मिट्टी की नजर आ रही है इसके अलावा सड़कों पर पानी के कोई छिड़काव नहीं कर रही है कई लोगों की शिकायत उन तक भी पहुंची है लेकिन अब कंपनियों पर नकेल कसने के लिए एसडीएम पावटा को सख्त निर्देश दे दिए हैं कि किसी भी सूरत पर कंपनियों को बख्शा नहीं जाए।

 

वही उद्योग मंत्री ने पत्रकारों के सवालों के जवाब देते हुए बताया कि 2 नंबर 3 नंबर और 4 बैच का काम कर रही कंपनी की लालच तो इतनी बढ़ गई है कि इन्हें शासन प्रशासन की कोई परवाह नहीं है चंद्र सिक्कों के लालच में प्रशासन के नियमों को ठेंगा दिखा रहे थे उन्होंने पिछली बार विपक्ष में इन सब मुद्दों को उठाया था लेकिन समस्या जस की तस रहेगी लेकिन अब इन तीनों कंपनियों की उल्टी गिनती शुरू है इनके द्वारा लोगों को जो तड़पाया गया है अब किसी भी सूरत पर कतई बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।

 

गौरतलब है कि सबसे बड़ा बनेगा विषय तो यह भी है कि राजमार्ग प्राधिकरण की लापरवाही और निजी कंपनी की मनमर्जी के कारण बीते एक महीने से लोगों को पेयजल प्राप्त नहीं हो पा रहा है। ग्राम पंचायत शिल्ला के लगभग चार गांव के लोग पेयजल होते हुए भी दर दर भटक रहे है। कई बार राजमार्ग प्राधिकरण व मौका पर कार्य कर रही कम्पनी को समस्या का समाधान करने के लिए कहा गया है। लेकिन समस्या जस की तस बनी हुई है।

 

बाइट उद्योग मंत्री हर्षवर्धन चौहान