पांवटा में हाथियों का उत्पात: बाता मंडी में खेतों की बाड़ तोड़ी, गेहूं की फसल बर्बाद…

 

पांवटा में हाथियों का उत्पात: बाता मंडी में खेतों की बाड़ तोड़ी, गेहूं की फसल बर्बाद…

 

हिमाचल के पांवटा एरिया में गुरुवार रात हाथियों ने जमकर उत्पात मचाया। यहां बाता मंडी एरिया में जंगली हाथी खेतों में घुस गए और बाड़ तोड़कर गेहूं की फसल बर्बाद कर दी। हाथियों ने आधा दर्जन किसानों की 20 बीघे से अधिक एरिया में खड़ी फसल को रौंद दिया।

 

पांवटा में हाथियों का उत्पात:झुंड ने बाता मंडी एरिया में खेतों की बाड़ तोड़ी, गेहूं की फसल बर्बाद

पांवटा साहिबएक दिन पहले

 

 

हाथियों ने की गेहूं की फसल खराब।

हिमाचल के पांवटा एरिया में गुरुवार रात हाथियों ने जमकर उत्पात मचाया। यहां बाता मंडी एरिया में जंगली हाथी खेतों में घुस गए और बाड़ तोड़कर गेहूं की फसल बर्बाद कर दी। हाथियों ने आधा दर्जन किसानों की 20 बीघे से अधिक एरिया में खड़ी फसल को रौंद दिया।

 

 

जंगली हाथी उत्तराखंड से यमुना नदी को क्रॉस करके हिमाचल की सीमा में आते रहते हैं। इस बार इन्होंने बाता मंडी एरिया में नुकसान किया। इससे पहले हाथियों ने बहराल पंचायत में किसानों का नुकसान किया था। तब हाथियों ने खेतों मे लगे 2 ट्यूबवेल के पाइप तोड़ दिए थे और कई बीघा में खड़ी गेहूं की फसल बर्बाद कर दी थी।

 

इसके अलावा हाथियों का झुंड गुरुद्वारा कोंच बेली की फेंसिंग तोड़कर गुरुद्वारे की सीमा में भी नुकसान कर चुका है। किसानों ने वन विभाग से मांग कि है कि जल्द इन हाथियों का कोई समाधान करें।

 

किसानों ने दी वन विभाग को चेतावनी

किसानों ने अपनी समस्या को लेकर वन विभाग को भी चेताया है। उन्होंने कहा कि अगर सुनवाई नहीं हुई तो वह वन विभाग का घेराव करेंगे। दूसरी ओर वन विभाग ने किसानों को आश्वासन दिया है कि जल्दी ही वन विभाग के कर्मचारी इन हाथियों को जंगल मे खदेड़ देंगे।