अंशकालीन जलवाहक संघ कि पांवटा लोक निर्माण विश्राम गृह में बैठक

अंशकालीन जलवाहक संघ कि पांवटा लोक निर्माण विश्राम गृह में बैठक

 

जलवाहक कर्मियों की परेशानियों उठाएंगे अब उद्योग मंत्री हर्षवर्धन चौहान से

 

भाजपा सरकार में मिला जलवाहको को आश्वासन पर आश्वासन नहीं हुआ कोई समाधान

 

 

जिला सिरमौर अंशकालीन जलवाहक संघ की मीटिंग अध्यक्ष यशवंत सिंह तोमर की अध्यक्षता में पांवटा लोक निर्माण विश्राम गृह के मैदान मैं संपन्न हुई इस मीटिंग में जिला सिरमौर के लगभग 50 अंशकालीन जलवाहक उपस्थित रहे मीटिंग में दैनिक वेतन भोगी से नियमित ना होने के कारण सबने रोष प्रकट किया और घेरा मंथन करने के बाद निर्णय लिया की उद्योग मंत्री हर्षवर्धन चौहान से हमें मिलना चाहिए और उन्हें अपनी समस्याओं से अवगत करवाना चाहिए

 

सब लोग एकजुट होकर देर शाम उद्योग मंत्री हर्षवर्धन चौहान से लोक निर्माण विश्राम गृह में मिलेंगे ओर उन्हें अपनी समस्याओं से अवगत करवाया।

 

जलवाहको की क्या है मांगे

 

1 जिन अंशकालीन जलवाहको को 11 वर्ष का कार्यकाल या इससे अधिक समय शिक्षा विभाग में हो गया है उन्हें जल्दी से जल्दी नियमित किया जाए अगर शिक्षा विभाग में पद खाली नहीं है तो चाहे किसी भी विभाग में नियमित किया जाए

 

2 , जिला सिरमौर में जो स्कूल अपग्रेड हुए हैं उन स्कूलों में चपरासी वा चौकीदार के पदों को क्रेट क्या जाए

हिमाचल प्रदेश में पूर्व में रही सरकार ने अंशकालीन जलवाहको नियमित करने की सीमा अवधि को 11 वर्ष किया है जबकि जिला सिरमौर के जलवाको इसका कोई भी फायदा नहीं मिल रहा है जिला सिरमौर में लगभग 100 अधिक जलवाहक दैनिक वेतन भोगी ऐसे हैं जो अपनी सीमा अवधि को पूरा कर चुके हैं लेकिन उन्हें पद खाली ना होने के कारण नियमित होने का लंबा इंतजार करना पड़ रहा है

 

 

जिला सिरमौर के सभी जलवा उद्योग मंत्री के माध्यम से सरकार से निवेदन किया है की जितना भी जल्दी हो सके हम सभी को नियमित होने का तोहफा दें।

 

वही जलवा के अध्यक्ष ने मीडिया के कैमरे उन्होंने बताया कि पिछली सरकार में कई बार मांगे उठाएंगे लेकिन आश्वासन प्रशासन मिलते रहे जिसकी खामियाजा आज तक जलवाहक झेल रहे हैं उन्हें कांग्रेस सरकार से उम्मीदें हैं कि उनकी मांगों को पूरा किया जाएगा।

 

 

बाइट जलवाहक अध्यक्ष यशवंत सिंह

बाइट महिलाएं जलवाहक