झूठी टिप्पणी करने का कोई टैक्स नहीं लगता ।

झूठी टिप्पणी करने का कोई टैक्स नहीं लगता ।

जनता अच्छे से जानती है की कौन कितनी साफ़ छवि का है ।

हर्षवर्धन चौहान जी की छवि जानने कि लिये आपकी बयानबाज़ी की ज़रूरत नहीं- सागर गुप्ता

ठाकुर हर्षवर्धन चौहान जी हिमाचल के सबसे ईमानदार नेताओ में एक है , और उनके ख़िलाफ़ इस तरह की टिप्पणी क़तई बर्दाश नहीं की जाएगी
प्रदीप चौहान द्वारा प्रेस वार्ता के दौरान उद्योग मंत्री हर्षवर्धन चौहान पर अनाप-शनाप बयान बाज़ी करना उनकी ग़लत छवि को दर्शाता है । इस तरह की बयान जारी करते हुए उनको यह सोचना चाहिए कि वो किसके लिये इस तरह कि ग़लत और फ़िज़ूल की बयानबाज़ी कर रहे है ।
हिमाचल प्रदेश में सबसे ईमानदार छवि के यदि कोई नेता है तो वह हर्षवर्धन चौहान जी हैं। उन पर झूठे आरोप लगाना सही नहीं है । प्रदीप चौहान जी को इस तरह की भाषा का उपयोग करने से पहले यह देखना चाहिए । जो हर्षवर्धन चौहान जी पूरे हिमाचल प्रदेश में अपनी ईमानदार और साफ़ छवि के लिए जाने जाते हैं और शिलाई की जनता का भी हमेशा उनके प्रति प्यार और भावना क़ायम रहेगा ।इसके लिए किसी की फ़िज़ूल टिप्पणी की ज़रूरत नहीं है ।
प्रदीप चौहान जी आपको यह सोचना चाहिए कि ठाकुर हर्षवर्धन चौहान जी अब ना केवल शिलाई के बल्कि हिमाचल के मंत्री है ।उनके ऊपर शिलाई कि साथ साथ पूरे हिमाचल प्रदेश की भी ज़िम्मेदारी है ।
और जो बयानबाज़ी आप कर रहे हो की मात्र 300 वोट से जीते है कोई इतनी बड़ी जीत हासिल नहीं की है ।तो जनाब आपको बताना चाहूगा की जीत तो 1 वोट की भी हो वो भी जीत ही कहलायी जाती है।
जिस तरह इस बार चुनाव के दौरान भाजपा ने उन को हराने के लिए कई दांवपेच खेले पर उसके बावजूद भी विपक्ष के लोग नाकाम रहे और शिलाई की जनता ने उनको जीताकर विधानसभा पहुँचाया हैं । उनका जीतने का कारण है उनकी ईमानदारी और लोगों के साथ मिल जुल कर रहना ।

शिलाई के ईमानदार नेता युवाओं को रोजगार देने के लिए
उधोग पतियों से बैठक के लिए मुम्बई गए है  ताकि उधोग हिमाचल में स्थापित हो  लोगो को रोजगार मिलें और हिमाचल प्रदेश के बेरोजगार युवाओं को घर द्वार पर ही रोजगार मिल सके।
इसलिए उनके खिलाफ अनाप-शनाप बयानबाजी करने और इस तरह की टीका टिप्पणी करने से पहले अपने आप को देखे,अन्यथा इस तरह की झूटी बयानबाजी बर्दाश नहीं की जाएगी ।