ऐतिहासिक गुरुद्वारा पांवटा साहिब में 339वें होला मोहल्ला पर सजे गुरू के पंज प्यारे, निकला भव्य नगर कीर्तन

ऐतिहासिक गुरुद्वारा पांवटा साहिब में 339वें होला मोहल्ला पर सजे गुरू के पंज प्यारे, निकला भव्य नगर कीर्तन…

श्रद्धालुओं की उमड़ी भीड़…

होला महल्ला के उपलक्ष्य में सोमबार को पांवटा साहिब के ऐतिहासिक गुरुद्वारा साहिब द्वारा विशाल नगर कीर्तन निकाला गया। नगर कीर्तन मेन बाजार से होते हुए बद्रीपुर चौक और वहां से वापिस बजार होते हुए गुरुद्वारा साहिब पांवटा में पहुंचकर समाप्त हुआ।

 

पंज प्यारों की अगुवाई में निकले कीर्तन में श्री गुरु ग्रंथ साहिब जी के पवित्र स्वरूप को पालकीनुमा वाहन पर सजाया गया था।

 

बाजारों का माहौल बोले सो निहाल के जयकारों से गूंज उठा। मुख्य बाजार में जहां जगह-जगह समाजसेवियों ने स्वागत किया, वहीं राहगीरों ने गुरु दरबार के समक्ष नतमस्तक होकर परिवार की सुख शांति के लिए मन्नतें भी मांगी। इस दौरान गतका पार्टी ने चौराहों पर हैरतअंगेज करतब दिखा कर संगतों को दंग कर दिया।

 

यह भव्य नगर कीर्तन दोपहर 1 बजे आरंभ होकर देर शाम को गुरुद्वारा पांवटा साहिब पहुंचा। इस दौरान आसपास क्षेत्र के विभिन्न गुरुद्वारों से संगत शामिल हुई। वहीं, गुरुद्वारों के कीर्तनी व रागी जत्थों ने गुरु शब्दों से संगत को निहाल किया। कीर्तनी जत्थों ने संगत को होला मोहल्ला के निकाले जाने वाले नगर कीर्तन का महत्व भी बताया। समाप्ति पर गुरुद्वारा साहिब में अटूट प्रसाद बांटा गया।

 

इस दौरान गुरुद्वारा प्रभंधक कमेटी के मैनेजर जगीर सिंह ने बताया की गुरुदवरा पांवटा साहिब में 339वां होला महल्ला बड़ी धूम धाम से मनाया जाएगा जिसके चलते सोमबार को नगर कीर्तन निकला गया। उन्होंने बताया की 7 मार्च मंगलवार को खुले पंडाल में कवी दरबार सुबह 9 बजे सांय 4 बजे तक सजेगा व इसी पंडाल में रात को 8 बजे दोबारा कवी दरबार सजेगा जिसमे दूसरे राज्यों से कवि आ कर अपनी कविताएं सुनाएंगे।

 

8 मार्च होली के दिन सुबह 10 बजे निशान साहिब की सेवा सुबह 9 बजे की जाएगी व अमृत संचार 10 बजे होगा।