एच3एन2 इनफ्लूएंजा को लेकर स्वास्थ्य विभाग अलर्ट सीएमओ ने सभी बीएमओ को एडवाइजरी जारी कर दिए निर्देश

एच3एन2 इनफ्लूएंजा को लेकर स्वास्थ्य विभाग अलर्ट सीएमओ ने सभी बीएमओ को एडवाइजरी जारी कर दिए निर्देश…

 

जनपद सिरमौर में एच3एन2 इनफ्लूएंजा को लेकर स्वास्थ्य विभाग अलर्ट हो गया है। मुख्य चिकित्सा अधिकारी की ओर से जिले के सभी स्वास्थ्य खंडों में खंड चिकित्सा अधिकारियों को एडवाइजरी जारी कर सुविधाएं दुरुस्त करने एवं सतर्क रहने के निर्देश दिए गए हैं। इसके अलावा लोगों को भी एच3एन2 इनफ्लूएंजा को लेकर जागरूक किया जा रहा है।

दरअसल, पड़ोसी राज्य हरियाणा में एच3एन2 इनफ्लूएंजा से एक व्यक्ति की मौत के बाद हिमाचल में भी इसको लेकर अलर्ट जारी किया गया है। एनएचएम के निदेशक की ओर से जिले के मुख्य चिकित्सा अधिकारी को एडवाइजरी जारी कर इससे निपटने के लिए तैयारियों के लिए कहा गया है। इस पर अमल करते हुए मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने जिले के सभी खंड चिकित्सा अधिकारियों और स्वास्थ्य अधिकारियों को इससे निपटने के लिए तैयारी करने को कहा है।

 

विभाग की ओर से जारी एडवाइजरी में सांस लेने में दिक्कत, छाती में दर्द, वायरल संक्रमण के लक्षण वाले मरीजों के टेस्ट करवाने के निर्देश दिए गए हैं। जिस तरह की सतर्कता कोरोना संक्रमण के दौरान बरती गई थी, एच3एन2 इनफ्लूएंजा को लेकर भी उतने ही गंभीर रहें। यदि किसी मरीज में इसके लक्षण दिखाई दें तो तुरंत सैंपल लेकर टेस्ट करवाएं।

छींकते समय रूमाल कर करें प्रयोग

वायरल फीवर, संक्रमण व अन्य बीमार व्यक्ति भीड़-भाड़ वाले स्थानों पर जाने से बचें। भीड़ वाले स्थानों पर छींक के दौरान कोहनी या रूमाल का प्रयोग करें। सार्वजनिक स्थानों पर मास्क का प्रयोग करें।

 

बीएमओ को तैयारियों के निर्देश : डॉ. पाठक

मुख्य चिकित्सा अधिकारी सिरमौर डॉ. अजय पाठक ने बताया कि एच3एन2 इनफ्लूएंजा को लेकर जारी एडवाइजरी मिली है। एडवाइजरी के मुताबिक तैयारियां शुरू कर दी गई हैं। उन्होंने कहा कि सिरमौर जिले में इस तरह का कोई मामला नहीं है, फिर भी सभी खंड चिकित्सा अधिकारियों को अपने स्तर पर तैयार रहने के लिए कहा गया है। अस्पतालों में व्यवस्थाओं को सुदृढ़ किया जा रहा है, ताकि ऐसे मामलों से निपटने में कोई परेशानी न हो। उन्होंने लोगों से आग्रह किया है कि वह छींकते समय रूमाल का प्रयोग करें और मास्क लगाएं