पांवटा साहिब में बंदरों का आतंक …बंदर के हमले से महिला जख्मी

पांवटा साहिब में बंदरों का आतंक …बंदर के हमले से महिला जख्मी

 

पांवटा साहिब में बंदरों के आतंक से शहरवासी दहशत में हैं। आलम यह है कि दिन-प्रतिदिन लोगों पर यह खुंखार बंदर हमले कर रहे हैं। वहीं सिविल अस्पताल में एंटी रैबीज के टीके नहीं मिल रहे हैं। पांवटा साहिब में बंदरों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है जिसका नुकसान बच्चों, महिलाओं और बुजर्गों को भुगतना पड़ रहा है। शहर में हर रोज बंदर लोगों पर हमला कर रहे हैं। जानकारी के अनुसार पांवटा साहिब के वार्ड नंबर-13 की निवासी सुषमा देवी सुबह अपने घर की छत पर धूप में बैठी थी कि अचानक बंदर आया और महिला पर हमला कर उसे जख्मी कर दिया। जिसके बाद महिला को जख्मी हालत में उपचार के लिए सिविल अस्पताल पांवटा साहिब लाया गया जहां उसका इलाज किया गया। गौर हो कि सर्दी के मौसम में अधिकतर लोग दिन के समय धूप सेंकने के लिए अपने घरों की छतों पर होते हैं।

 

ऐसे में बंदरों ने इतना आतंक शहर में मचाया है कि लोगों का जीना मुहाल कर दिया है। बता दें कि इससे पहले भी कई बार बंदरों द्वारा लोगों पर हमला किया गया है, जिसमें कई लोग घायल भी हुए हैं। बंदरों की तादात इतनी ज्यादा होती है कि लोगों को डरकर भागना पड़ता है। वार्ड नंबर पांच, छह, सात, आठ, वार्ड नंबर 12 व वार्ड नंबर 13 के लोगों ने प्रशासन से जल्द ही इन बंदरों से निजात दिलाने के लिए प्रशासन व संबंधित विभाग से मांग की है। उधर, इस बारे में डीएफओ पांवटा कुणाल अंग्रिश ने बताया कि बंदरों को पकडऩे के लिए क्षेत्र में मोंकी कैच टीम लगाई जाएगी। जिसके निर्देश उन्होंने वहां के वन विभाग के कर्मचारियों को दे दिए हैं।