पांवटा साहिब में नियमों की धज्जियां उड़ा रहे लोग, नगर परिषद नहीं कर रहा कार्रवाई

पांवटा साहिब में नियमों की धज्जियां उड़ा रहे लोग, नगर परिषद नहीं कर रहा कार्रवाई…

पांवटा साहिब में यहां कूड़ा फेंकना सख्त मना है। कूड़ा फेंकने पर पांच हजार रुपए जुर्माना अथवा कानूनी कार्रवाई की जाएगी। नगरपालिका परिषद की ओर से यह आदेश एनएच से सटे इलाके में लगाया गया है, परंतु कार्रवाई के इस साइन बोर्ड के ठीक नीचे कूड़े का अंबार लगा है। यही नहीं नगरपालिका न यहां से वक्त पर कूड़ा उठा रही है और न ही कूड़ा फेंकने वालों पर कार्रवाई कर पा रही है। नगरपालिका खुद के बनाए नियमों को अमलीजामा नहीं पहना पा रही है। कूड़ा न फेंकने और कूड़ा फेंकने पर कार्रवाई की चेतावनी वाले साइन बोर्ड पांवटा में एनएच समेत कई जगहों पर लगे हैं, लेकिन इनमें से अधिकांश जगहों में कूड़ा फेंका जा रहा है। न लोग कूड़ा फेंकने से बाज आ रहे हैं और न ही नगरपालिका नियम तोडऩे वालों पर कार्रवाई कर पा रही है। नतीजा यह हो रहा है कि यहां से गुजरने वाले कूड़े के ढेरों से उफनती दुर्गंध से परेशान हैं। बावजूद इसके लोग इन सबसे बेफिक्र होकर कूड़ा डाल रहे हैं, लेकिन नगरपालिका भी सिवाए चेतावनी देने के कुछ नहीं कर पा रही है। नगरपालिका अब तक प्रतिबंधित क्षेत्र में कूड़ा डालने वाले किसी भी व्यक्ति पर जुर्माना नहीं लगा सकी है, जिससे कूड़ा फेंकने वालों को कोई डर भी नहीं है। लोगों का यह रवैया और नगरपालिका की लापरवाही शहर की सुंदरता पर बट्टा लगा रही है। पांवटा शहर में एनएच मार्ग पर बामुश्किल तीन किलोमीटर की दूरी पर शहर का कूड़ा फेंका जा रहा है।

कायदे से कूड़ा नगरपालिका द्वारा रखे गए डस्टबिन में फेंकना चाहिए, लेकिन काफी कूड़ा सडक़ के किनारे ही गिर रहा है। इसमें बड़ी मात्रा में पोलिथीन और प्लास्टिक भी है। नगरपालिका परिषद पांवटा साहिब के कार्यकारी अधिकारी अजमेर सिंह ठाकुर का कहना है कि कूड़े वाली गाड़ी हर रोज कूड़ा घरों से उठा रही है तथा एनएच पर लगे डस्टबिनों को भी हर रोज खाली किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि फिर भी लोग कूड़ा सडक़ पर फेंक रहे हैं। उन्होंने कहा कि अब उन लोगों को जो कूड़ा सडक़ पर फेंक रहे हैं देखने के लिए नगरपालिका कुछ कर्मचारियों को लगाएगी तथा पकड़े जाने पर पांच हजार जुर्माना वसूला जाएगा। उन्होंने लोगों से अपील करते हुए कहा कि वह अपना कूड़ा घर-घर जो कूड़ा लेने गाड़ी आती है।