एक दिवसीय प्रतियोगिता नेशनल गतका कप में दस राज्यों ने दिखाया दम

मुख्यातिथि एसपी ओबराय ने विजेता टीमों को किया सम्मानित

 

पांवटा साहिब में रविवार को एक दिवसीय नेशनल गत्तका कप शुरू हुआ जो देर रात तक चला। पांवटा की संस्था यूथ ब्रिगेड की ओर से गत्तका फेडरेशन इंडिया के सहयोग व सिक्ख शस्त्र विद्या काउंसिल की मौजूदगी में रविवार को तीसरा नेशनल विरसा संभाल गत्तका मुकाबला पांवटा साहिब गुरुद्वारा ग्राउंड में शुरू हुआ। जिसमें देश के अलग-अलग राज्यों से 10 टीमों ने भाग लिया व अपने खेल के जौहर दिखाए। इस दौरान संस्था की ओर से गत्तका मुकाबले एकल और समूह गु्रप में विजेता टीमों को कैश प्राइज दिए गए। इस प्रतियोगिता में मुख्यातिथि के रूप में एसपी ओबराय ने शिरकत की। साथ ही विशेष रूप से संत बाबा बलबीर सिंह सीचेवाल सांसद विशेष रूप से मौजूद रहे। इस दौरान मुख्यातिथि एसपी ओबराय ने यूथ ब्रिगेड संस्था की ओर से करवाए जा रहे इन मुकाबलों की प्रशंसा की। ओबराय ने कहा कि जिस तरह सभी राज्यों की सरकारें नशे के खात्मे के लिए कदम उठा रही हैं उसी तरह यूथ ब्रिगेड व गत्तका फेडरेशन इंडिया की ओर से किया जा रहा यह प्रयास युवाओं को पंजाबी विरासत से जोडऩे में अहम योगदान देगा। उन्होंने कहा कि बेटियों को भी अपनी रक्षा के लिए इस तरह के गुर सीखने के लिए आगे आना चाहिए।

 

इस दौरान यूथ ब्रिगेड के अध्यक्ष इंद्रजीत सिंह मीका ने कहा कि इस खेल को ओर बेहतर करने के प्रयास किए जाएंगे जिसके लिए सभी अपना योगदान दे रहे हैं। उन्होंने कहा कि इसके लिए सभी को साथ लेकर चला जाएगा। इस मौके पर विशेष अतिथि अवनीत सिंह लांबा, हरप्रीत सिंह रतन, प्रेजिडेंट गत्तका फेडरेशन ऑफ इंडिया हरचरण सिंह भुल्लर, सोहल सिंह उपाध्यक्ष जीएफआई, दविंदर सिंह भंगू प्रोटोकॉल सुपरिडेंट पंजाब सरकार एवं वाइस प्रेजिडेंट पंजाब गत्तका एसोसिएशन व बलजिंदर सिंह तूर जनरल सेक्रेटरी जीएफआई विशेष रूप से मौजूद रहे।