गुड मॉर्निंग हिमाचल – आज हिमाचल प्रदेश में क्या है खास एक क्लिक में देखे सारी खबरें

 

आज हिमाचल प्रदेश में क्या है खास एक क्लिक में देखे सारी खबरें

 

 

_सिरमौर जिले के उपमंडल शिलाई की ग्राम पंचायत नाया पंजोड़ के पांच गांवों में सामाजिक एवं शादी समारोहों के दौरान शराब परोसने और अन्य महंगे रीति-रिवाजों पर प्रतिबंध लगा दिया है। दरअसल, ये फैसला गांव के ही बुद्धिजीवियों और युवाओं ने लिया। इसको लेकर नाया गांव के महासू देवता मंदिर परिसर (थाती चौंतरा) में पांच गांवों के लोगों की वार्षिक बैठक हुई, जिसमें ये कई अहम फैसले लिए गए। इस दौरान कुछ रीति रिवाजों को कम करने और सादे तरीके से निभाने के लिए तांदियों, कफेनू, कूकडेच, नाया, ठोंठा के लोगों ने अपने विचार रखे। निर्णय लिया गया कि शादी समारोह और पार्टियों में शराब नहीं परोसा जाएगा। समारोह में रुटयारी यानी रोटी बनाने वाली महिलाओं को घी आदि देने का रीति-रिवाज भी बंद कर दिया गया। इसकी जगह सभी सामूहिक भोजन की व्यवस्था रहेगी।इसके साथ-साथ लड़की की शादी में दहेज लेने और देने की परंपरा को भी बंद किया गया। दणाटी, सोइताटी ले जाने वाले व्यक्ति को 200 रुपये की भेंट और आने-जाने के लिए दूरी के हिसाब से किराया दिया जाएगा। वहीं, विवाहिता के प्रसव के दौरान घी का सैर और गुड़ की भेली देने का रिवाज भी खत्म कर दिया है। क्षेत्र के बुद्धिजीवी हुकमीराम डिमेदार, महेंद्र सिंह और रणदीप शर्मा ने कहा कि सभी खेलों व वर्गों के लोगों ने मिलकर ये फैसले लिए हैं। इनका पालन करना सभी की जिम्मेदारी रहेगी। जो इसका उल्लंघन करेगा, उसे दंडित किया जाएगा और उसे पांचों गांव से अलग किया जाएगा। बैठक में जालम सिंह, देवीराम, आत्माराम, मोहन सिंह, धर्म सिंह, गीताराम, ज्ञानसिंह, भारत भूषण, केवल शर्मा रोशन शर्मा, अरविंद, राजेश, जोगीराम शर्मा, राजेश, लायकराम, तोताराम, देवीराम, चेतराम, बहादुर सिंह, मनसाराम, रमेशचंद, मनीराम राजेंद्र प्रकाश, रण सिंह, वेदप्रकाश, कुलदीप, राकेश, बलवीर आदि पांचों गांव के लोग मौजूद रहे।_

 

 

शिमला। केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण और युवा एवं खेल मामलों के मंत्री अनुराग सिंह ठाकुर आज शिमला में नगर निगम चुनाव में पार्टी प्रत्याशियों के पक्ष जनसभाएँ व रोड शो कर शिमला के चहुँओर विकास के लिए निगम में फिर भाजपा को जिताने का अनुरोध किया। अनुराग ठाकुर ने वार्ड संख्या-6 टूटू, वार्ड संख्या-7 मज्याठ, वार्ड संख्या- 5 समरहिल में जनसभा व वार्ड संख्या- 33 खलिनी, वार्ड संख्या 13 कृष्णा नगर, सीटीओ लोअर बाज़ार में चुनाव प्रचार कर प्रेस वार्ता को सम्बोधित किया। शिमला में भाजपा द्वारा किये गए विकास कार्यों को दोहराते हुए ठाकुर ने कहा, ” शिमला नगर निगम चुनाव में भाजपा के सभी उम्मीदवार पूरे जोश के साथ मज़बूती से चुनाव लड़ रहे हैं। शिमला की जनता ने इन निगम चुनावों में फिर से भाजपा को जिताने का मन बना लिया है। हम अपने विकास कार्यों व कांग्रेस की नाकामियों को लेकर जनता के बीच में जा रहे हैं। शिमला में आज ये जो भी डेवलपमेंट दिख रहा है यह भाजपा की देन है। पहले शिमला की सड़कें तंग थीं, पानी की समस्या, गन्दगी की दिक्कत थी और विकास ना के बराबर था। प्रधानमन्त्री जी ने कोई 5 -10 करोड़ नहीं बल्कि 6500 करोड़ शिमला और धर्मशाला के स्मार्ट सिटी के लिए दिया है। आज सड़कों का चौड़ीकरण जो आप देख रहे हैं वो भारतीय जनता पार्टी ने जनता के आशीर्वाद से किया है।कारों की पार्किंग की सुविधा, अलग अलग वार्डों में पार्किंग की सुविधा जो आप देखते हैं और 700 और कारों की पार्किंग की सुविधा जो बनने जा रही है, ये सब भी भाजपा की देन है. शिमला में पिछले पांच वर्षों में अभूतपूर्व बदलाव हुए हैं. पानी की समस्या से मुक्ति हेतु 1800 करोड़ रूपये के प्रावधान किये गए. भारतीय जनता पार्टी के कारपोरेशन बनने के बाद विकास के अनेकों और काम किये जायेंगआगे बोलते हुए ठाकुर ने कहा “हमने शिमला सहित पूरे हिमाचल प्रदेश में बिजली की समस्या का निवारण किया। नयी तारों का बिछना हो या ट्रांसफार्मर्स हो सब लगवाने का काम किया है।हमने स्वास्थय की सुविधा दी और कांग्रेस ने 5 महीने में हीं उसे बंद करने का काम किया है। अगर आप दे नहीं सकते तो कम से कम छीनने का काम ना करें. सत्ता में भाव होना चाहिए. विकास आपके सोच में होना चाहिए। सिर्फ पांच महीने में ही कांग्रेस की सारी गारंटियां फेल हैं। शिमला कारपोरेशन के चुनाव में इनकी गारंटियाँ काम नहीं आयीं। झूठे वादे कर सत्ता में आई कांग्रेस से जनता इनकी 10 गारंटियों का हिसाब माँग रही है। ठाकुर ने आगे कहा, “सरकार में आने से पहले कांग्रेसी बोलते थे हम कर्ज़ा नहीं लेंगे बल्कि कर्ज़ा चुकाएंगे। रोज़ का 40 करोड़ कर्ज़ा यानी लगभग 6 हज़ार करोड़ का कर्ज़ा ये सरकार पिछले पांच महीनों में ले चुकी है। कांग्रेस पार्टी हिमाचल प्रदेश को कर्ज़े में डुबाने का काम कर रही है। इनके विधायक कहीं जन्मदिन मना रहे हैं और मंत्री विदेशों में घूम रहे हैं। कोई जनता से मिलने को तैयार नहीं है. इस सरकार के बनते हीं लूट की खुली छूट मिल गयी है। जनता आज ठगा हुआ महसूस कर रही है और इन चुनावों में कांग्रेस पर वोट का चोट कर उनके झूठे वादों के लिए सबक़ सिखाने जा रही है। शिमला कारपोरेशन चुनावों में भाजपा की जीत पर पूरा भरोसा जताते हुए ठाकुर ने कहा, “भारतीय जनता पार्टी शिमला कारपोरेशन के चुनाव में अपने विकास कार्यों को लेकर जा रही है. आज आप कहीं भी किसी वार्ड में चले जाइये लोग बोलते मिल जायेंगे की ये तो भारतीय जनता पार्टी ने कराया है. आज लोग भारतीय जनता पार्टी को वोट देने के लिए दिल से तैयार हैं।

 

 

शिमला। केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण और युवा एवं खेल मामलों के मंत्री अनुराग सिंह ठाकुर आज शिमला में नगर निगम चुनाव में पार्टी प्रत्याशियों के पक्ष जनसभाएँ व रोड शो कर शिमला के चहुँओर विकास के लिए निगम में फिर भाजपा को जिताने का अनुरोध किया। अनुराग ठाकुर ने वार्ड संख्या-6 टूटू, वार्ड संख्या-7 मज्याठ, वार्ड संख्या- 5 समरहिल में जनसभा व वार्ड संख्या- 33 खलिनी, वार्ड संख्या 13 कृष्णा नगर, सीटीओ लोअर बाज़ार में चुनाव प्रचार कर प्रेस वार्ता को सम्बोधित किया। शिमला में भाजपा द्वारा किये गए विकास कार्यों को दोहराते हुए ठाकुर ने कहा, ” शिमला नगर निगम चुनाव में भाजपा के सभी उम्मीदवार पूरे जोश के साथ मज़बूती से चुनाव लड़ रहे हैं। शिमला की जनता ने इन निगम चुनावों में फिर से भाजपा को जिताने का मन बना लिया है। हम अपने विकास कार्यों व कांग्रेस की नाकामियों को लेकर जनता के बीच में जा रहे हैं। शिमला में आज ये जो भी डेवलपमेंट दिख रहा है यह भाजपा की देन है। पहले शिमला की सड़कें तंग थीं, पानी की समस्या, गन्दगी की दिक्कत थी और विकास ना के बराबर था। प्रधानमन्त्री जी ने कोई 5 -10 करोड़ नहीं बल्कि 6500 करोड़ शिमला और धर्मशाला के स्मार्ट सिटी के लिए दिया है। आज सड़कों का चौड़ीकरण जो आप देख रहे हैं वो भारतीय जनता पार्टी ने जनता के आशीर्वाद से किया है।कारों की पार्किंग की सुविधा, अलग अलग वार्डों में पार्किंग की सुविधा जो आप देखते हैं और 700 और कारों की पार्किंग की सुविधा जो बनने जा रही है, ये सब भी भाजपा की देन है. शिमला में पिछले पांच वर्षों में अभूतपूर्व बदलाव हुए हैं. पानी की समस्या से मुक्ति हेतु 1800 करोड़ रूपये के प्रावधान किये गए. भारतीय जनता पार्टी के कारपोरेशन बनने के बाद विकास के अनेकों और काम किये जायेंगआगे बोलते हुए ठाकुर ने कहा “हमने शिमला सहित पूरे हिमाचल प्रदेश में बिजली की समस्या का निवारण किया। नयी तारों का बिछना हो या ट्रांसफार्मर्स हो सब लगवाने का काम किया है।हमने स्वास्थय की सुविधा दी और कांग्रेस ने 5 महीने में हीं उसे बंद करने का काम किया है। अगर आप दे नहीं सकते तो कम से कम छीनने का काम ना करें. सत्ता में भाव होना चाहिए. विकास आपके सोच में होना चाहिए। सिर्फ पांच महीने में ही कांग्रेस की सारी गारंटियां फेल हैं। शिमला कारपोरेशन के चुनाव में इनकी गारंटियाँ काम नहीं आयीं। झूठे वादे कर सत्ता में आई कांग्रेस से जनता इनकी 10 गारंटियों का हिसाब माँग रही है। ठाकुर ने आगे कहा, “सरकार में आने से पहले कांग्रेसी बोलते थे हम कर्ज़ा नहीं लेंगे बल्कि कर्ज़ा चुकाएंगे। रोज़ का 40 करोड़ कर्ज़ा यानी लगभग 6 हज़ार करोड़ का कर्ज़ा ये सरकार पिछले पांच महीनों में ले चुकी है। कांग्रेस पार्टी हिमाचल प्रदेश को कर्ज़े में डुबाने का काम कर रही है। इनके विधायक कहीं जन्मदिन मना रहे हैं और मंत्री विदेशों में घूम रहे हैं। कोई जनता से मिलने को तैयार नहीं है. इस सरकार के बनते हीं लूट की खुली छूट मिल गयी है। जनता आज ठगा हुआ महसूस कर रही है और इन चुनावों में कांग्रेस पर वोट का चोट कर उनके झूठे वादों के लिए सबक़ सिखाने जा रही है। शिमला कारपोरेशन चुनावों में भाजपा की जीत पर पूरा भरोसा जताते हुए ठाकुर ने कहा, “भारतीय जनता पार्टी शिमला कारपोरेशन के चुनाव में अपने विकास कार्यों को लेकर जा रही है. आज आप कहीं भी किसी वार्ड में चले जाइये लोग बोलते मिल जायेंगे की ये तो भारतीय जनता पार्टी ने कराया है. आज लोग भारतीय जनता पार्टी को वोट देने के लिए दिल से तैयार हैं

 

 

 

*शिमला के IGMC अस्पताल की कैंटीन में गैस सिलिंडर फटने से लगी आग, मरीज और तीमारदारों में मची भगदड़*

*हिमाचल प्रदेश के शिमला के आईजीएमसी अस्पताल की कैंटीन में आग लगने से अफरातफरी मच गई। गैस सिलिंडर में आग लगने से यह आग भड़की। दमकल विभाग की टीम आग पर काबू पाने में जुटी है।*

हिमाचल प्रदेश की राजधानी शिमला के आईजीएमसी अस्पताल के न्यू ओपीडी ब्लॉक के टॉप फ्लोर में बनी डॉक्टरों की कैंटीन में गुरुवार सुबह अचानक आग लग गई। बताया जा रहा है कि गैस सिलिंडर फटने के चलते यह घटना घटी है।

आग की घटना के बाद यहां पर अफरातफरी का माहौल बन गया। मरीज और उनके तीमारदार घटना के बाद यहां से भागते नजर आए। जबकि अस्पताल के कर्मी पानी से आग बुझाने का प्रयास कर रहे थे।

बता दें कि पुराने भवन से आईजीएमसी आने वाली सड़क टूटी है । इस लिहाज से यहां पर अग्निशमन की गाड़ियां भी पहुंचने में काफी मशक्कत का सामना करना पड़ा। फिलहाल फायर ब्रिगेड आग पर काबू पाने में जुटी है। कैंटीन में सैकड़ों मरीजों के तीमारदार खाना खाते हैं।

 

लाहौल में बर्फ में फंसे 9 मजदूरों का सफल रेस्क्यू:* पुलिस की गाड़ी आगे नहीं जा सकी तो स्थानीय युवा ने की मदद, साढ़े 7 घंटे चला ऑपरेशन

हिमाचल के लाहौल स्पीति जिला पुलिस प्रशासन के टीम व तन्जिन जिग्मे ने बुधवार 19 मार्च को दारचा शिंकुला रोड के पास बर्फ में फंसे गर्ग एंड गर्ग कंपनी के 9 मजदूरों का रेस्क्यू किया। पुलिस टीम को इस बचाव कार्य में करीब साढ़े 7 घंटे का समय लगा। बचाव कार्य सुबह 5:30 बजे पूरा किया गया।

लोकेशन 18 किलोमीटर के पास 9 मजदूर फंसे होने की

मिली सूचना

पुलिस अधीक्षक मानव वर्मा ने जानकारी देते हुए बताया कि बुधवार 19 अप्रैल की रात करीब 10:00 बजे पुलिस पोस्ट दारचा को सूचना मिली कि दारचा शिंकुला रोड पर BRO की लोकेशन 18 किलोमीटर के पास 9 मजदूर बर्फ में फंसे हुए हैं। उन्होंने बताया कि जिस इलाके में वे फंसे हैं वहां पर एवलांच आने की भी संभावना है।

इसलिए इस मामले पर त्वरित कार्रवाई करते हुए पुलिस चौकी दारचा से पुलिस टीम अपने निजी वाहन से मौके के लिए रवाना हुई।

 

 

IGMC जलता रहा, CM सुखु वोट माँगते रहे।
जब आज सुबह आईजीएमसी जलने की खबर आयी तो वहाँ मरीज़ों से लेकर तीमारदार सभी परेशान हो गये लेकिन हैरानी की बात देखो मुख्यमंत्री सुखु आईजीएमसी जलने के 7-8 घंटे बाद भी व्यवस्था परिवर्तन का राग अलाप रहे है और अभी भी लोगों MC शिमला में कांग्रेस के लिए वोट माँगने में व्यस्त है। जहां एक ओर करोड़ों की सरकारी संपत्ति जल कर राख हो जाए और सरकार का मुखिया अपनी पार्टी के पार्षद के लिए वोट माँगने में व्यस्त हो और दूसरी ओर नेता प्रतिपक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर वहाँ तुरंत जा कर मौक़े का जायज़ा ले लें तो आप सोच ही सकते है कि कौन कितना संवेदनशील है ?
*क्या यही हैं मुख्यमंत्री सुखु जी का व्यवस्था परिवर्तन है ?*