पांवटा साहिब में फिर ऊर्जा मंत्री भारी मतों से विजय

पांवटा साहिब में फिर ऊर्जा मंत्री भारी मतों से विजय 

 

 सिरमौर जिले में तीन कांग्रेस और दो भाजपा…

 

ऊर्जा मंत्री सुखराम चौधरी ने पांवटा साहिब में फिर भारी मतों से जीत हासिल कर ली है दरअसल पांवटा साहिब में सुखराम चौधरी ने लगभग 8596 हजार मतों से जीत दर्ज कर ली है। पांवटा साहिब में सुखराम चौधरी द्वारा 5 वर्षों तक जनता के बीच रहने का यह एक बड़ा नतीजा सामने आया है

 

इस दौरान किरनेश जंग को 22412 मत पड़े हैं। बता दें कि किरनेश जंग 7 बार इलेक्शन लड़ चुके हैं जिसमें से 6 बार हारे हैं और 1 बार जीतें है।

 

वहीं इस बार आम आदमी पार्टी के प्रत्याशी मनीष ठाकुर को पांवटा की जनता ने 5058 वोट डाले हैं। हालांकि मनीष ठाकुर पिछले एक दशक से लगातार जनता के बीच रहे हैं।

 

वहीं दूसरी ओर नाहन में डॉक्टर राजीव बिंदल और अजय सोलंकी के बीच कांटे की टक्कर रही आखिरी रांउड से पहले तक 21 वोटों से अजय सोलंकी बढ़त बनाए रहे आखिर में 34545 मत पड़े यानि 1488 वोटों से जीत दर्ज कर ली।

 

वहीं नाहन में डॉक्टर राजीव बिंदल को 33057 मत पड़े। राजीव बिंदल की हार में एक बड़ी वजह एन्टीकम्बेंसी भी रही वहीं उन पर भ्रष्टाचार के आरोप भी लगे थे।

 

वहीं शिलाई में बेहद चौंकाने वाले नतीजे सामने आए हैं हर्षवर्धन चौहान को 32093 वोट मिले। फिलहाल हर्षवर्धन चौहान ने 386 मतों से जीत दर्ज कर जनता द्वारा चुने लिए गए हैं दरअसल यहां पर भाजपा द्वारा जनजातीय दर्जे का पत्ता भी पूरी तरह फेल हो गया।

 

बलदेव तोमर….. 31711 मत पड़े हैं। शिलाई में किए गए दर्जनों बड़े कामों को भी जनता ने नकार दिए यहां पर अनुसूचित जनजाति की नाराजगी है बलदेव तोमर को हराने में एक बड़ा योगदान दिया शुरू से ही अनुसूचित जाति जनजाति के लोग जनजातीय कार्य कर रहे इसके बावजूद उन्होंने बेहद हल्के में लिया गया और किसी भी बड़े नेता ने उनको अपने पक्ष में करने का कोई बड़ा कार्य नहीं किया नाराजगी इतनी बड़ी के आखिर तक अनुसूचित जनजाति को वोट डालने के लिए जुट गए।

 

पच्छाद से भाजपा की प्रत्याशी रीना कश्यप ने भी जीत दर्ज कर ली है। 20630 वोट मिले वहीं दयाल प्यारी को 16837 वोट मिली है। गंगुराम को 12946 वोट मिले हैं।

 

वहीं से रेणुका जी में भाजपा के प्रत्याशी को 21781 वोट मिले जबकि विनय कुमार को 22811मत प्राप्त हुए। यहां विनय कुमार ने जीत दर्ज कर ली है।