उद्योग मंत्री के विधानसभा के इस पंचायत में पानी की किल्लत शुरू

उद्योग मंत्री के विधानसभा के इस पंचायत में पानी की किल्लत शुरू

जल शक्ति विभाग के जिम्मेदार अधिकारी सोए कुंभकरण की नींद

 

गर्मियां शुरू होते ही पानी की किल्लत की समस्या आना आम बात है लेकिन जिन इलाकों में भरपूर पानी हो ओर पानी की समस्या शुरू हो जाए तो कौन जिम्मेदार होगा दरअसल सतोन में जल शक्ति विभाग के कर्मचारी की लापरवाही सामने आई है यहां पर पानी कुछ मिनटो के लिए छोड़ा जाता है जिससे लोग अपने घरों में पानी नहीं भर पाते।

ऐसे में कई लोगों ने बताया कि दो मंजिला मकान में पानी नहीं चढ़ पा रहा है इतना ही नहीं अधिकांश मकान सतोन में दो मंजिला तीन मंजिलें हैं जिसके चलते लोगों को पानी पानी की किल्लत झेलनी पड़ रही है लोगों का कहना है कि 15 दिनों से यह समस्या उत्पन्न हो रही है इससे पहले पानी की समस्या कभी भी उत्पन्न नहीं थी और पानी हमेशा ओवरफ्लो होता था लेकिन अब ओवरफ्लो की जगह पानी टैंकों में नहीं पहुंच पा रहा है।

वहीं कई लोगों ने हम से बातचीत करते हुए बताया कि इस बारे में पूर्व मंत्री से भी शिकायत की जाएगी और आंख मूंद के सो रहे अधिकारियों कार्रवाई की माँग की जाएगी।

गौरतलब है कि जल शक्ति विभाग के कई कर्मचारी और अधिकारी ऐसे उद्योग मंत्री के विधानसभा क्षेत्र में है जो कई वर्षों से एक ही जगह पर सेवाएं दे रहे हैं जिसके चलते उनके हौसले दिनोंदिन बुलंद होते जा रहे हैं पर आम जनमानस को इसकी परेशानियां झेलनी पड़ रही है

आपको ज्ञात होगा कि प्रदेश सरकार हर घर नल जल योजना देने की बात कर रही है यदि सिरमौर जिले के गिरीपार क्षेत्र की बात की जाए तो यहां पर यह योजना दम तोड़ रही है धरातल की सच्चाई यह है कि दर्जनों ऐसे गांव हैं जो आज बजी पानी की बूंद बूंद के लिए तरस रहे हैं

 

समय रहते यदि ईमानदार मुख्यमंत्री ऐसे कर्मचारियों अधिकारियों पर नकेल कसते है तो पूरे हिमाचल में पानी की समस्या कभी उत्पन्न नहीं होगी।

 

 

वही जल शक्ति विभाग के जिला अधिकारी से जब बातचीत की तो उन्होंने कहा कि मामला उनके संज्ञान में नहीं था लेकिन अगर यह समस्या उत्पन्न हो रही है इसका समाधान किया जाएगा