सतौन के पास पिकअप पलटी…15 लोग जख्मी

मां रेणुका के दर्शन कर लौट रहे श्रद्धालुओं की गाड़ी मानल में हुई हादसे का शिकार

 

जिला सिरमौर के प्रसिद्ध तीर्थस्थल मां श्रीरेणुकाजी से दर्शन कर पिकअप में वापस लौटकर आ रहे श्रद्धालुओं की गाड़ी सतौन के पास मानल में खाई में पलट जाने से दर्जनों लोग घायल हुए हैं। जानकारी के अनुसार देहरादून निवासी हरिद्वार से मां की मूर्ति लेकर उसकी स्थापना करने के लिए हरिद्वार से रेणुकाजी दर्शन करने आए थे। जिसके बाद वह मां की ज्योति लेकर वापस देहरादून की ओर जा रहे थे कि तभी रास्ते में अचानक मानल में यह दर्दनाक हादसा हो गया। इस हादसे में 13 लोग घायल हो गए हैं। बता दें कि जिस समय यह हादसा पेश आया है उस समय पिकअप में करीब 15 लोग सवार थे और साथ ही मां की मूर्ति भी थी।

हादसे में घायलों की पहचान 17 वर्षीय अमन पुत्र इंदर सिंह निवासी मसरास पट्टी देहरादून, बहादुर सिंह, राजपाल, 45 वर्षीय पप्पू धीमान पुत्र मांधु धीमान निवासी भूराड़ी टिहरी घड़वाल, 29 वर्षीय जसवीर पुत्र दिलदास निवासी नैनबाग उत्तराखंड, 18 वर्षीय सूरज पुत्र जगदीश निवासी मसरास पट्टी, 21 वर्षीय राजन पुत्र रमेश निवासी चडोगी टिहरी, 28 वर्षीय नवीन पुत्र सूरत निवासी चडोली मसूरी, सबल सिंह गांव विकासनगर नबाबगढ़, दर्शन सिंह (66), किशन सिंह थान गांव विकासनगर, सौवन दास (55), ज्ञान दास गांव नैनबाग जिला टिहरी से मौजूद थे। हादसे में गंभीर रूप से घायल अंजलि पुत्री जयपाल सिंह निवासी देहरादून, अमन, राजपाल, विक्रम व नवीन की हालत गंभीर देखते हुए उन्हें हायर सेंटर रैफर कर दिया गया है। वहीं सिविल अस्पताल पांवटा साहिब में तैनात डाक्टर तुषार ने बताया कि पिकअप पलटने के कारण इस हादसे में दर्जनों लोग घायल हुए हैं जिनमें कई लोगों की हालत गंभीर देखते हुए प्राथमिक उपचार देने के बाद रैफर कर दिया गया है। वहीं सिविल अस्पताल में अचानक इतने गंभीर मरीजों के आने से अफरा-तफरी का माहौल देखने को मिला। मौके पर सिर्फ एक डाक्टर के होने के कारण भी यह अफरा-तफरी बढ़ गई। गंभीर लोगों को रैफर करने में तकरीबन एक से डेढ़ घंटा लग गया। उधर मामले में पुष्टि करते हुए डीएसपी पांवटा मानवेंद्र ठाकुर ने बताया कि दर्जनों लोग इस सडक़ हादसे में घायल हुए हैं।