जिला माइनिंग अधिकारी जल्द जागे कुंभकरण नींद से, नहीं तो होगा धरना प्रदर्शन – गोपी

टिपर चालको से आतंक ग्रामीणों ने उठाई आवाज पांवटा SDM के माध्यम से CM को भेजा ज्ञापन

 

जिला माइनिंग अधिकारी की लापरवाही की वजह से पांवटा साहिब में लोग सुकून की नींद नहीं सो पा रहे हैं दरअसल पांवटा साहिब के रामपुर घाट में टिपर चालकों के आतंक से लोग परेशान हैं रात हो या दिन सुकून की नींद नहीं सो पा रहे हैं यह बात हम नहीं कह रहे हैं बरोटीवाला का एक प्रतिनिधि मंडल ने एसडीएम के माध्यम से प्रदेश के मुखिया सुखविंदर सिंह सुक्खू को पत्र भेजकर कही है।

 

मीडिया के कैमरे ऑन होते ही संयुक्त किसान मोर्चा पांवटा के अध्यक्ष तरसेम सिंह कहा कि टिप्पर चालकों की मनमानी बढ़ती जा रही है जिनकी वजह से जल शक्ति विभाग को लाखों की चपत लग चुकी है बिजली विभाग को भी चपत लग चुकी है इतना ही नहीं टूटी-फूटी सड़कों पर भी लोगों को आवाजाही करने पड़ रही है और इसकी सबसे बड़ी लापरवाही जिला माइनिंग अधिकारी की है एक बार भी वह मौके पर आकर लोगों की समस्याओं का समाधान करने के लिए कोई प्रयास नहीं किया हमेशा अपने दफ्तर में बैठकर आराम फरमा रहे हैं।

उन्होंने कहा कि शहर में अवैध खनन माफिया की गुंडागर्दी थमने का नाम नहीं ले रही है। रात के समय रेत बजरी माफिया अनाप-शनाप गालियां देते हैं जिससे युवा पीढ़ी पर इसका असर हो रहा है उन्होंने कहा कि रेत बजरी माफियाओं की वजह से एक माइनिंग गार्ड को अपनी जान गंवानी पड़ी माइनिंग इंस्पेक्टर को अगवा तक इन रेट बजरी माफियाओं ने किया लेकिन जिला माइनिंग अधिकारी ने अभी तक एक भी कार्रवाई इन सभी विषयों में अमल में नहीं लाई, रेत बजरी माफिया सरकार को भी चपत लगा रहे हैं रॉयल्टी एक चक्कर की देर है बल्कि उनके जगह पर तीन-तीन चक्कर लगाए जा रहे हैं।

 

वही ग्रामीणों ने यहां तक कह दिया कि यदि समय रहते जिला माइनिंग अधिकारी अपनी कुंभकरण नींद से नहीं जागे तो अब ग्रामीण सड़कों पर उतरेंगे जमकर धरना प्रदर्शन भी करेंगे और जिसकी सारी की सारी जिम्मेदारी प्रशासन की होगी

 

वह इस बारे में पांवटा एसडीएम गुरजीत सिंह चीमा ने बताया कि इस संबंध में जिला माइनिंग अधिकारी को आदेश दिए जाएंगे और इस समस्या का समाधान के लिए पूरा प्रयास किया जाएगा

 

गौरतलब है कि एसडीएम पांवटा लगातार रेत बजरी माफिया के खिलाफ कार्रवाई करना चाहते हैं लेकिन इन विभिन्न विभागों के लापरवाही की वजह से उनकी मेहनत पर भी पानी फिर रहा है