जवाहर नवोदय विद्यालय का पूर्व छात्र मिलन समारोह, होटल कबीरा में संपन्न हुआ समारोह,

जवाहर नवोदय विद्यालय का पूर्व छात्र मिलन समारोह,
होटल कबीरा में संपन्न हुआ समारोह,

नाहन(सिरमौर)। शुक्रवार देर शाम होटल कबीरा में जवाहर नवोदय विद्यालय के पूर्व छात्र मिलन समारोह का आयोजन किया गया। इस समारोह में 2 दर्जन से अधिक नवोदयन शामिल हुए। बरसो बाद मिले छात्रों ने जहां स्कूल के दिनों को याद किया वही वर्तमान में कर रहे कार्यों के बारे में भी एक दूसरे को अवगत करवाया।
दरअसल मिलन समारोह का मकसद नाहन और आसपास के क्षेत्र में रह रहे या नौकरी कर रहे देश के किसी भी जवाहर नवोदय विद्यालय से पास आउट छात्रों से आपसी जान पहचान करना था। इसके लिए जीएसटी कार्यालय नाहन में कार्यरत उप आयुक्त हिमांशु पवार तथा डॉ वाईएस परमार मेडिकल कॉलेज नाहन में कार्यरत डॉक्टर बाबूराम एसीएफ देवेंद्र दत्त शर्मा फार्मासिस्ट सीमा चौधरी ने संयुक्त रूप से प्रयास किए जिसमें उन्हें उम्मीद से भी अधिक सफलता प्राप्त हुई। खास बात यह रही कि किसी ने जवाहर नवोदय विद्यालय के वर्ल्ड वाइड ग्रुप में भी इस मिलन की जानकारी साझा की थी जिसकी बदौलत जवाहर नवोदय विद्यालय झांसी से पास आउट एक छात्र भी इस कार्यक्रम में शामिल हुए।
समारोह के शुभारंभ में देवेंद्र दत्त शर्मा ने समारोह में पहुंचे सभी पूर्व छात्रों का स्वागत किया। उन्होंने अलग-अलग स्थानों पर नवोदय के छात्रों द्वारा किए गए कार्यों के बारे में अपने अनुभव साझा किए। इसके बाद डॉक्टर बाबू राम ने नवोदय के इतिहास के बारे में विस्तार से जानकारी दी। उन्होंने बताया कि नवोदय विद्यालयों को शुरू करने से पहले काफी मुश्किलें सामने आई। पहले नवोदय विद्यालय को केंद्रीय विद्यालयों में रात्रि के समय चलाने की भी कई विशेषज्ञों द्वारा सलाह दी गई थी। परंतु उसके बाद देश के 500 जिलों का सर्वे करने के बाद नवोदय विद्यालयों को अलग से स्थापित करने का निर्णय लिया गया। इस दौरान हिमांशु पंवार कहा कि उन्होंने जहां भी नौकरी की है वहां उनका उस क्षेत्र में रह रहे नवोदयन से मिलने का प्रयास रहा है। ताकि आवश्यकता पड़ने पर एक दूसरे की मदद की जा सके। उन्होंने समारोह में पहुंचे सभी साथियों से आह्वान करते हुए कहा कि हमें न केवल नवोदयन बल्कि अपने आसपास जरूरतमंद लोगों की मदद के लिए भी आगे आना चाहिए और इसके लिए योजना भी बनाई जा रही है। कार्यक्रम में सीमा चौधरी द्वारा नवोदयन के जीवन पर लिखी कविता पढ़ी और अपने अनुभव साझा किए। देर रात चले इस कार्यक्रम में पहुंचे सभी पूर्व छात्रों ने भी अपना परिचय, पास आउट होने का वर्ष तथा छात्र जीवन के अपने-अपने अनुभव सांझा किये।
हालांकि देश के सभी जवाहर नवोदय विद्यालयों में पूर्व छात्रों के लिए एल्यूमिनी मीट का आयोजन किया जाता है परंतु व्यस्तताओं के कारण अधिकतर छात्र इसमें नहीं पहुंच पाते। पिछले कल संपन्न हुए इस कार्यक्रम में भी कई छात्र 2 दशकों से अधिक समय बाद एक दूसरे से मिले तो उनकी आंखें नम हो गई।