सुनील शर्मा अध्यक्ष smc (Gia) यूनियन हिमाचल प्रदेश फिर लगाई प्रदेश के मुखिया से गुहार

हिमाचल प्रदेश यशस्वी मुख्यमंत्री श्री सुखविंद्र सिंह सुक्खू जी, उप मुख्यमंत्री श्री मुकेश अग्निहोत्री जी, शिक्षा मंत्री श्री रोहित ठाकुर जी तथा पूरे मंत्रिमंडल से उम्मीद लगाए बैठे हैं कि आने वाली 18 जून की केबिनेट में SMC अध्यापकों को स्थाई पॉलिसी का तोहफा देकर बारह वर्षों के शोषण से मुक्ति देकर ढाई हजार एसएमसी शिक्षकों को राहत प्रदान करेंगे । एसएमसी अध्यापकों की पॉलिसी को सुप्रीम कोर्ट ने होल्ड गुड बताया है, माननीय मुख्यमंत्री जी 2500 अध्यापकों ने कांग्रेस की सरकार को बनाने में अहम रोल अदा किया है, क्योंकि 2500 परिवारों ने आप पर और आपकी सरकार पर पूरा भरोसा जताया है इसके लिए आप अपने मंत्रियो और विधायको से भी फीड बैक ले सकते है। माननीय मुख्यमंत्री जी आप ने कहा था की मुझे 6 महीने दो उसके पश्चात मैं आपका कार्य करूंगा लेकिन 6 महीने भी बीत जाने के पश्चात भी एसएमसी अध्यापकों का कोई स्थाई समाधान नहीं निकाला गया है मेरा आपसे विनम्र आग्रह है कि आप आने वाली 18 की कैबिनेट में 2500 एसएमसी अध्यापकों को नियमितीकरण का तोहफा देकर शिक्षा विभाग में सबसे ज्यादा शोषित वर्ग के साथ न्याय करेंगे । मुझे पूर्ण विश्वास है कि कांग्रेस सरकार हमारी पॉलिसी में संशोधन करके स्थाई समाधान निकालेगी। माननीय मुख्यमंत्री जी आपने और आपकी कांग्रेस सरकार ने OPS जैसे मुद्दे को हल किया है जिसमें आपके सामने कई चुनौतियां थी फिर भी आपने OPS लागू करके सरकारी कर्मचारियों की इस जायज मांग को पूरा किया ।

 

इससे साफ झलकता है कि आप ops के लिए कितने गंभीर थे और परिणाम आज सबके सामने है। माननीय मुख्य मंत्री जी आपके लिए एसएमसी का कार्य करना ज्यादा कठिन नही है । मैं प्रदेश अध्यक्ष के नाते आप से करबद्ध निवेदन करता हूं कि आप आने वाले कैबिनेट में ढाई हजार एसएमसी अध्यापकों को नियमितीकरण का तोहफा देंगे इसके लिए 2500s.m.c. अध्यापक एवम उनका परिवार आपका ताउम्र आभारी रहेगा