2 मिनट में 20 खबरें टॉप ट्वेंटी न्यूज़

 

न्यू ईयर के लिए मैक्लोडगंज तैयार

सरक्षा व्यवस्था को दो रिजर्व तैनात

हुड़दंगियों के लिए क्यूआरटी रहेगी मौजूद
धर्मशाला

ब्रेकिंग…..

बिलासपुर शहर में हुआ बड़ा हंगामा
बैकअप ऑपरेटर में बीच शहर में रॉक ओं सीमेंट का ट्रक, हजारों की तादाद में एकत्रित हो गए ट्रक ऑपरेटर, शहर में हुआ तनावपूर्ण माहौल, मौके पर पुलिस वर्दी हुआ रवाना, लगभग 2 किलोमीटर तक लगा लंबा जाम

बिलासपुर शहर में ट्रक ऑपरेटर ने एक और रोका ट्रक।
शहर में हुआ लड़ाई वाला माहौल पैदा, पूरा बिलासपुर शहर हुआ जैम पैक,

 

Solan

बघाट बैंक सोलन में भाजपा का तख्ता हुआ पलट,कांग्रेस के अरुण शर्मा बने चैयरमैन, किरण किशोर वाईस चैयरमेन

– दो नए निदेशक गगन चौहान और मनहरदीप सिंह के मनोनीत होने के बाद बैंक में कांग्रेस का मिला बहुमत

– संघर्ष समिति के एक सदस्य ने भी दिया कांग्रेस को समर्थन

 

हिमाचल के जिला चंबा के चुराह ग्राम पंचायत हरतवास के गांव कैहला में बर्फबारी से टूटी बिजली की तार में आग की लपटें निकली लापरवाही का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल

शिमला में महिला की पिटाई की बाद महिला की मौत ,हत्या की आशंका जांच में जुटी पुलिस

समीर रंजन दास ने मुख्यमंत्री से भेंट की, मुख्यमंत्री को पुरुष एफआईएच हॉकी विश्व कप 2023 के लिए आमंत्रित किया.

शिमला.
उड़ीसा के स्कूल एवं जन शिक्षा राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) समीर रंजन दास ने आज यहां मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू से भेंट की.
उन्होंने उड़ीसा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक की ओर से सुखविंदर सिंह सुक्खू को 13 से 29 जनवरी, 2023 तक कलिंगा स्टेडियम भुवनेश्वर और बिरसा मुंडा हॉकी स्टेडियम राउरकेला में आयोजित होने वाले पुरुष एफआईएच हॉकी विश्व कप-2023 में गरिमापूर्ण उपस्थिति के लिए आमंत्रित किया.
मुख्यमंत्री ने आमंत्रण के लिए उनका आभार व्यक्त किया.

 

 

 

चम्बा जिला कि ऊपरी पहाड़ियो पर हुआ मौसम का पहला हिमपात,

बागवानो किसानो व् पर्यटन वयवसाय से जुड़े लोगो में ख़ुशी कि लहर.

एंकरलाइन्स —-चम्बा जिला कि ऊपरी पहाड़ियो पर  मौसम का पहला हिमपात हो गया है इससे स्थानीय लोगों के साथ-साथ यहाँ पहुंचे पर्यटकों में खुशी की लहर दौड़ गई है।  होटल व्यावसायी व् पर्यटन वयवसाय से जुड़े वय्पारी हिमपात के कारण  पर्यटकों के बड़ी संख्या में उमड़ने की उम्मीद कर रहे हैं। जिला के ऊपरी इलाको होली , तीसा ,पांगी भरमौर डलहोजी सहित जिला कि सभी ऊपरी इलाको में  हिमपात  से पहाड़ी इलाको  का दृश्य और मनोरम हो गया है। बर्फबारी व बारिश के चलते चम्बा जिला  पूरी तरह से ठंड की चपेट में आ गया  है। कई मार्ग वाहनों की आवाजाही के लिए अवरुद्ध हो गए है । जिला के पर्यटक स्थल बर्फ की सफेद चांदी से चमक उठे हैं।  बहरहाल, चम्बा जिला  के सभी ऊपरी इलाको ने बर्फ की सफेद चादर ओढ़ ली है। इसी के चलते  चम्बा जिला के सैलानियों के मशहूर पर्यटक स्थल  डलहोजी कि ऊपरी इलाके कालाटोप लकड़मंडी  व् डैन कुंड में भी लगभग एक फुट  ताजा बर्फबारी हुई है। ताजा बर्फबारी से डलहोजी  के  पहाड़ों का सौंदर्य भी निखर उठा है। डलहोजी घूमने आये पर्यटको कि ख़ुशी का ठिकाना नहीं है   कालाटोप व् लकड़मंडी में  पर्यटको का ताँता लगा हुआ है जगह जगह पर्यटक बर्फ से अटखेलिया करते नजर आ रहे है बर्फ़बारी से व्यवसायियों को भी कारोबार में बढ़ोतरी की उम्मीद जगी है।  हिमपात से बागवानो किसानो व् पर्यटन वयवसाय से जुड़े लोगो में ख़ुशी कि लहर है । लंबे अर्से बाद पडी फुहारों को खेती-किसानी के लिए मुफीद माना जा रहा है साथ ही लोंगो को सूखी ठंड से भी राहत मिली है ।

बाइट – स्थानीय निवासी मन्नत कौर ने बताया की डलहौजी में मौसम का पहला हिमपात हुआ है पर्यटकों के साथ साथ स्थानीय लोग भी बहुत एन्जॉय कर रहे है डलहौजी के खूबसूरत नज़ारे देखकर बहुत अच्छा लग रहा है।

बाइटे — डलहोजी घुमने आये पर्यटकों का कहना है की उन्हें बर्फ में बहुत मज़ा आ रहा है ठण्ड के बावजूद बहुत मस्ती कर रहे है ऐसा लग रहा है जैसे जन्नत में आ गए है सबको एक बार डलहौजी जरूर आना चाहिए।

 

न्यू ईयर के लिए मैक्लोडगंज तैयार
सुरक्षा व्यवस्था को दो रिजर्व तैनात
हुड़दंगियों के लिए क्यूआरटी रहेगी मौजूद
धर्मशाला

न्यू ईयर यानी वर्ष 2023 के स्वागत के लिए पर्यटन नगरी मैक्लोडगंज तैयार हो चुकी है। जहां होटलियर्स ने पर्यटकों के स्वागत का निर्णय लिया है, वहीं कोरोना के बाद इस बार पर्यटकों की खासी भीड़ नववर्ष के स्वागत के लिए उमडऩा शुरू हो गई है। सुरक्षा व्यवस्था के लिए मैक्लोडगंज में दो रिजर्व तैनात कर दी गई हैं। पूर्व के वर्षों में न्यू ईयर के दौरान हुड़दंग की घटनाओं को देखते हुए पहले से क्यूआरटी की व्यवस्था की गई है। यही नहीं पुलिस भी लगातार पेट्रोलिंग करती रहेगी।
मौसम शानदार
राजस्थान से आए राजेंद्र शेखावत ने कहा कि यहां का मौसम शानदार है। यहां ट्रैफिक जाम की समस्या है, बाकी सब बढिय़ा है, उम्मीद है यहां आए हैं तो बर्फ भी देखने को मिलेगी।
बर्फबारी की उम्मीद पूरी
महिला पर्यटक पवनदीप ने कहा कि व्हाइट न्यू ईयर की उम्मीद से मैक्लोडगंज पहुंचे थे, जो पूरी हो गई। ट्रैफिक जाम की समस्या से परेशान, यहां तक कि रोड़ क्रॉस करना भी मुश्किल हो गया है।
मौसम अमेजिंग
महिला पर्यटक श्रेष्ठा का कहना है कि न्यू ईयर मनाने परिवरा सहित यहां आए हैं। मौसम बहुत अमेजिंग है, ट्रैफिक बहुत ज्यादा है।
धर्मशाला तो मानो जन्नत है
पुणे से आए अजय देशमुख ने कहा कि हर वर्ष क्रिसमस और न्यू ईयर पर बाहर घूमते हैं। पहले आईपीएल के समय यहां आ चुके हैं, धर्मशाला यूं मानो जन्नत है। मौसम बढिय़ा है, हम नया साल यहीं मनाएंगे। ट्रैफिक है, लेकिन यह पर्यटन का ही हिस्सा है।
यूरोप से अच्छा है धर्मशाला
मुंबई से आए चंद्रकांत केदारी का कहना है कि लोग न जाने क्यों घूमने यूरोप जाते हैं, धर्मशाला का मौसम बहुत अच्छा है। मुंबई में ऐसा मौसम कभी नहीं मिलता। हम परिवार सहित साप्ताहिक कार्यक्रम बनाकर आए हैं।
इस बार आमद बढिय़ा
मैक्लोडगंज के पर्यटन उद्यमी कपिल देव का कहना है कि कोविड के बाद नया साल मनाने काफी संख्या में लोग यहां पहुंचे हैं। मैक्लोडगंज के होटल 2 से 3 जनवरी तक पैक ही हैं, 25 दिसंबर के बाद मैक्लोडगंज में पर्यटन कारोबार ठीक चल रहा है।

रिंकू सूर्यवंशी।
तैयारियां पूरी, दो रिजर्व मिली : एसएचओ
मैक्लोडगंज थाना प्रभारी रिंकू सूर्यवंशी ने बताया कि हर वर्ष नववर्ष पर काफी संख्या में पर्यटक आते हैं। वाहनों की आवाजाही अधिक रहती है, इसको लेकर तैयारियां पूर्ण कर ली गई हैं। जिला पुलिस मुख्यालय से पुलिस की दो रिजर्व मिल चुकी हैं। जरूरत पडऩे पर जिला पुलिस या बटालियन से और जवान बुला लिए जाएंगे।
नववर्ष पर वनवे व्यवस्था का प्रयास
एसएचओ ने बताया कि नववर्ष पर बढ़ते ट्रैपिक दबाव को देखते हुए मैक्लोडगंज एरिया में वनवे व्यवस्था बनाने का प्रयास किया गया है। हुड़दंग मचाने वालों पर नकेल कसने के लिए क्यूआरटी भी रहेगी। कानून व्यवस्था के लिए नडडी, डल लेक, भागसूनाग, मैक्लोडगंज मुख्य चौक पर पुलिस जवान तैनात रहेंगे। पुलिस की टीम गश्त भी करती रहेगी।

मंडी

हिमाचल के उंचाई वाली पहाड़ियों में बर्फबारी का दौर जारी
मंडी जिला के पहाड़ी क्षेत्रों में भी गिर रही बर्फ की फाहें
सराज के गाड़ागुसैणी में रूक-रूक कर बर्फबारी का दौर जारी
बर्फबारी से सराज क्षेत्र में बढ़ी ठंड, लोग घरों में दुबके
हिमपात के बाद उंचे क्षेत्रों के लोगों की धीमी होगी दिनचर्या
उधर जिला प्रशासन ने लोगों से एहतियात बरतने को कहा
पर्यटकों से उंचाई वाले क्षेत्रों की ओर ना जाने का किया आग्रह
शिकारी देवी में 6 इंच तक बर्फबारी की गई दर्ज
फिलहाल यातायात के लिए सभी सड़क मार्ग खुले

शोटस…बर्फबारी होने के बाद सुबह के शोटस…बर्फ की फाहें गिरते हुए शोटस…एडीएम मंडी के शोटस…

एंकर…..हिमाचल प्रदेश के उंचाई वाली पहाड़ियों में बर्फबारी का दौर जारी है। वही अगर मंडी जिला की बात करें तो यंहा भी मौसम खराब है और जिला की उंचाई वाली पहाड़ियों पर बर्फ की फाहें गिर रही है। ठंड के कारण लोग घरों में दुबके पड़े है। जिला प्रशासन ने भी लोगों और पर्यटकों को उंचाई वाले क्षेत्रों की ओर जाने से मनाही की है। शिकारी देवी में 6 इंच बर्फबारी हुई है। फिलहाल छोटी गाड़ियों के लिए सभी सड़क मार्ग खुले है।

शोटस..

वीओ… हिमाचल प्रदेश की मंडी जिला में मौसम सुहावना है। जिला के उंचाई वाले ईलाकों में जंहा बर्फबारी का सिलसिला जारी है तो वही निचले ईलाकों में कहीं बारिश हो रही है तो कहीं मौसम खराब है। बात अगर मंडी जिला के सराज क्षेत्र की करें तो यंहा के उंचाई वाले क्षेत्रों में बिती रात से रूक रूक कर बर्फबारी हो रही है। गाड़ागुसैणी में बिती रात बर्फबारी हुई, सुबह हिमपात का सिलसिला रूका और उसके बाद दोपहर से फिर बर्फ गिरना शुरू हो गई। बर्फ की गिरती फाहों से मौसम जंहा सुहाना है वही ठंड भी बढ़ गई है। हिमपात होने से अब क्षेत्र के लोगों को काफी पेरशानियों का सामना करना पड़ेगा। हालाकिं ये बर्फबारी सेब के पौधों और अन्य फसलों के लिए जरूरी है। सराज क्षेत्र के अलावा जिला के पर्यटन स्थल पराशर, शिकारी देवी में भी बर्फबारी हो रही हैै।
बाईट.. स्थानीय निवासी

उधर जिला प्रशासन ने भी खराब मौसम को देखते हुए लोगो और पर्यटकों से एहतियात बरतने को कहा है। एडीएम मंडी अश्वनी कुमार ने कहा कि जिला में पिछले कल से उंचाई वाले क्षेत्रों में बर्फबारी हो रही है और आगामी 24 घंटों में भी हिमपात की संभावना है। उनहोने बताया कि शिकारी देवी में 6 इंच बर्फबारी हुई है। फिलहाल छोटी गाड़ियों के लिए सभी सड़क मार्ग खुले है।

बाईट….अश्वनी कुमार/एडीएम, मंडी \

वीओ…. एडीएम ने बताया कि बर्फबारी से निपटने के लिए जिला प्रशासन तैयार है और सभी अधिकारियों को इसको लेकर आदेश पहले ही जारी कर दिए गए है। सोशल मीडिया के माध्यम से भी एडवायजरी जारी की जा रही है। साथ ही उनहोने पर्यटकों को उंचाई वाले क्षेत्रों का रूख ना करने की सलाह दी है ताकि हादसों से बचा जा सके।