यमुना नदी से खनिजों के अवैध परिवहन पर लगेगी रोक-विवेक महाजन

पांवटा में सोया माइनिंग विभाग विभाग यमुना नदी में जमकर खनन

यमुना नदी से खनिजों के अवैध परिवहन पर लगेगी रोक-विवेक महाजन

 

 

पांवटा साहिब की यमुना नदी में रेत बजरी माफियाओं ने अपना तांडव मचा दिया है जबकि माइनिंग विभाग रेत बजरी माफियाओं पर कोई नकेल नहीं कस रहा है लोगों की शिकायत के बाद पांवटा एसडीएम विवेक महाजन ने खुद कार्रवाई शुरू कर दी है दरअसल

पांवटा साहिब उपमंडल दंडाधिकारी पांवटा साहिब विवेक महाजन की अध्यक्षता में उपमंडल दंडाधिकारी कार्यालय के सभागार में वन मंडल अधिकारी, खनन अधिकारी सिरमौर, पुलिस अधिकारियों सहित राजस्व विभाग के अधिकारियों तथा कर्मचारियों के साथ बैठक आयोजित की गई।
उपमंडल दंडाधिकारी ने जानकारी देते हुए बताया कि बैठक में यमुना नदी के मौसमी जल बहाव के कारण यमुना नदी से उत्तराखंड राज्य तथा अन्य बने पथों के माध्यम से खनिज के परिवहन के संबंध में विभिन्न स्रोतों से प्राप्त शिकायतों के सम्बन्ध में विस्तृत चर्चा की गई।

 

बैठक के दौरान नदी नाले के माध्यम से खनिजों के अवैध परिवहन पर रोक लगाने की रणनीति तैयार की गई तथा निर्णय लिया गया कि रामपुर घाट और मानपुर देवडा स्थानों पर खनन विभाग, वन विभाग तथा पुलिस विभाग के अधिकारियों के साथ दो अस्थायी चेक पोस्ट स्थापित किए जाएंगे, ताकि नदी चैनल के माध्यम से किसी भी अवैध परिवहन पर अंकुश लगाया जा सके।

उपमंडल दंडाधिकारी ने बैठक में लिए निर्णय अनुसार अस्थायी चेक पोस्ट रामपुर घाट और मानपुर देवडा स्थानों पर खनन विभाग, वन विभाग तथा पुलिस विभाग के अधिकारियों की तैनाती करते हुए निर्देश जारी किए कि वे प्रतिनियुक्त चेक पोस्ट पर सुबह 7:30 बजे से शाम 7:30 बजे तक डटे रहें और यह सुनिश्चित करें कि कोई भी वाहन नदी नाले से न गुजरे। यह भी सुनिश्चित किया जाए कि चेक पोस्ट के आसपास के क्षेत्रों में अवैध खनन न हो। किसी भी स्थिति में पूर्व अनुमति के बिना जांच चौकी निष्क्रिय नहीं छोड़ी जाए।