DC के आदेशों को दिखा रहे टिपर चालक ठेंगा

DC के आदेशों को दिखा रहे टिपर चालक ठेंगा

माइनिंग विभाग और वन विभाग सोया कुंभकरण नीद

 

पांवटा साहिब में बुलेट ट्रेन की तरह सड़कों पर दौड़ रहे टिपर , पहले भी लोगों के लिए जानलेवा साबित हो चुके हैं कई लोगों की जानें जा चुकी है माइनिंग गार्ड को भी अपनी जान गवानी पड़ी थी लेकिन अवैध खनन समाज हो रहे इन टिपरो पर नकेल कसने के लिए संबंधित विभाग कोई कार्यवाही करने को तैयार नहीं है वही अब कांग्रेस नेता प्रदीप चौहान ने भी प्रेस बयान जारी किया है कि उपायुक्त सिरमौर के आदेशों की पोंटा साहिब में जमकर धज्जियां उड़ाई जा रही है।

 

 

 

दरअसल कांग्रेस नेता ने प्रेस बयान में बताया कि
डीसी सिरमौर के ऑर्डर की खनन वाले उड़ा रहे धज्जियां बागरण पुल का रिपेयरिंग का काम चला हुआ है जिसमें डीसी साहब ने बड़ी गाड़ियों के लिए अलग से रूट निर्धारित किया था एक छोटा मार्ग छोटी गाड़ियों बाइक वालों के लिए गिरी से बनाया था जिससे काम करने वाले लोगों को कोई दिक्कत परेशानी ना है पर खनन वाले डीसी साहब के ऑर्डर को नहीं मान रहे वह भी उसी रास्ते से जा रहे हैं जिससे छोटी गाड़ियां चल रही है यदि वहां पर बड़ी गाड़ियों से वह पुल टूट जाता है क्षेत्र के दर्जनों गांव के हजारों परिवारों को दिक्कत झेलनी पड़ सकती है।

प्रदीप चौहान ने बताया कि यमुना नदी में बड़े पैमाने पर अवैध खनन किया जा रहा है जबकि संबंधित विभाग के जिम्मेदार अधिकारी को सारी जानकारी होने के बावजूद भी चुप्पी साधे बैठे हैं।

वही बागरण पुल की बात की जाए तो बड़े वाहनों की आवाजाही से बैली पुल टूट सकता है जिससे लोगों को परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है।

 

डीसी साहब ने बड़ी गाड़ियों को चलने की भी वहां से परमिशन दे रखी है यदि नहीं है तो यह गाड़ियां कैसे चल रही है यदि इन गाड़ियों पर जल्द से जल्द पुलिस ने कार्रवाई नहीं की तो इसकी शिकायत डीएसपी पोंटा को दी जाएगी कि इस मार्ग पर बड़ी गाड़ियों का प्रवेश बंद करा जाए ताकि आम आदमी को आने जाने में परेशानी ना हो।