HPBOSE: हिमाचल स्कूल शिक्षा बोर्ड बदलेगा प्रश्नपत्रों का पैटर्न, ऐसे पूछे जाएंगे सवाल

HPBOSE: हिमाचल स्कूल शिक्षा बोर्ड बदलेगा प्रश्नपत्रों का पैटर्न, ऐसे पूछे जाएंगे सवाल

प्रदेश स्कूल शिक्षा बोर्ड धर्मशाला प्रश्नपत्रों का पैटर्न बदलेगा। शैक्षणिक सत्र 2024-25 में एक ही प्रश्नपत्र में प्रश्नों को आगे-पीछे रखा जाएगा।

हिमाचल प्रदेश स्कूल शिक्षा बोर्ड धर्मशाला प्रश्नपत्रों का पैटर्न बदलेगा। शैक्षणिक सत्र 2024-25 में एक ही प्रश्नपत्र में प्रश्नों को आगे-पीछे रखा जाएगा। प्रश्नपत्र ए, बी और सी सीरीज में ही आएंगे। इससे पहले आने वाले ए, बी और सी सीरिज के प्रश्नपत्र अलग-अलग होते थे। हिमाचल प्रदेश स्कूल शिक्षा बोर्ड शैक्षणिक सत्र 2024-25 में होने वाली परीक्षाओं के दौरान प्रश्नपत्रों के पैटर्न को बदलेगा। स्कूल शिक्षा बोर्ड अब एक ही प्रश्नपत्र तैयार करेगा, लेकिन उसे ए, बी और सी सीरीज में ही परीक्षार्थियों को वितरित करेगा। वहीं इस दौरान सीरिज में आने वाले इन प्रश्नपत्रों में पूछे जाने वाले प्रश्नों को जंबल तरीके से पूछेगा। यानी हर सीरिज के प्रश्नपत्र में एक जैसे ही प्रश्न होंगे, लेकिन उनकी नंबरिंग में अंतर होगा। ए सीरिज में पूछे जाने वाले पहले प्रश्न को बी और सी सीरिज के प्रश्नपत्र में कहीं भी पूछा जा सकेगा। इससे परीक्षाओं के दौरान नकल को भी रोका जा सकेगा।

पहले परीक्षार्थी उठाते थे सवाल
बोर्ड सूत्रों का कहना है कि पहले ए, बी और सी सीरिज में प्रश्नपत्र परीक्षार्थियों को उपलब्ध करवाया जाता था। इस दौरान हर सीरिज के प्रश्नपत्र में अलग-अलग प्रश्न पूछे जाते थे। इससे कई बार किसी सीरिज के परीक्षार्थी को बहुत ही कठिन प्रश्नपत्र मिल जाता था, तो किसी सीरिज के परीक्षार्थी को प्रश्नपत्र आसान लगता था। इससे कई छात्र मायूस होते थे। छात्रों की इसी मायूसी को दूर करने के लिए शिक्षा बोर्ड प्रबंधन अब एक ही प्रश्नपत्रों को अलग-अलग सीरीज में जंबल तरीके से पूछेगा।

हिमाचल प्रदेश स्कूल शिक्षा बोर्ड शैक्षणिक सत्र 2024-25 में होने वाली परीक्षाओं के दौरान प्रश्नपत्रों के पैटर्न को बदलेगा। पहले ए, बी और सी सीरिज के प्रश्नपत्र परीक्षार्थियों को उपलब्ध करवाए जाते थे, जिसमें सभी सीरिज में अलग-अलग प्रश्न होते थे। लेकिन इस सत्र के लिए योजना बनाई जा रही है कि प्रश्नपत्र तो एक ही होगा, लेकिन ए, बी और सी सीरीज में प्रश्नों को आगे-पीछे करके रखा जाएगा।– डॉ. मेजर विशाल शर्मा, सचिव, स्कूल शिक्षा बोर्ड धर्मशाला।