HPERC:बिजली दरों में बढ़ोतरी नहीं चाहिए तो 3 मार्च तक दर्ज करवाएं सुझाव और आपत्तियां

  • HPERC:बिजली दरों में बढ़ोतरी नहीं चाहिए तो 3 मार्च तक दर्ज करवाएं सुझाव और आपत्तियां

राज्य विद्युत नियामक आयोग ने साल 2024-25 के लिए बिजली दरें तय करने से पहले जनता की राय आमंत्रित की है।

प्रदेश के बिजली उपभोक्ता दरों में बढ़ोतरी नहीं चाहते हैं, तो तीन मार्च तक अपने सुझाव और आपत्तियां दर्ज करवा सकते हैं। राज्य विद्युत नियामक आयोग ने साल 2024-25 के लिए बिजली दरें तय करने से पहले जनता की राय आमंत्रित की है। इसी कड़ी में 14 मार्च को आयोग के कुसुम्पटी स्थित कार्यालय में जनसुनवाई होगी। लोगों के सुझाव और आपत्तियों का बिजली बोर्ड सात मार्च तक जवाब देकर भेजेगा। जवाब से असंतुष्ट लोग 12 मार्च तक दोबारा अपनी बात रख सकेंगे

आयोग को भेजा बढ़ोतरी करने का प्रस्ताव

राज्य बिजली बोर्ड ने घाटे का हवाला देकर अप्रैल 2024 से घरेलू बिजली की दरों में 10 से 15 फीसदी तक बढ़ोतरी करने का प्रस्ताव आयोग को भेजा है। 30 मार्च को राज्य विद्युत नियामक आयोग की ओर से बिजली की नई दरों की घोषणा की जाएगी। इन नई दरों के हिसाब से ही अगले वित्त वर्ष बिजली की दरें घरेलू और अन्य उपभोक्ताओं से वसूली जाएगी। राज्य बिजली बोर्ड की ओर से पूरे साल के खर्च व आय का आंकलन करते हुए अगले साल कितनी आय की जरूरत है, इस आधार पर याचिका तैयार कर भेजी गई है।

यहां दे सकते हैं सुझाव
– सचिव राज्य विद्युत नियामक आयोग का एसडीए कांप्लेक्स कुसुम्पटी कार्यालय।
– ई-मेल आईडी : cecomm@hpseb.in या edp@hpseb.in या secy-hperc@hp.gov.in