Sirmour: तीन माह बाद जिंदगी की जंग हार गया सैनिक सचिन शर्मा

तीन माह बाद जिंदगी की जंग हार गया सैनिक सचिन शर्मा

 

सिरमौर जिला के पच्छाद उपमंडल के तहत नावल गांव का सैनिक सचिन शर्मा पुत्र देव स्वरूप शर्मा जिंदगी की जंग हार गया है। सोमवार देर शाम सचिन ने आर्मी कमांड अस्पताल चंडी मंदिर पंचकूला में अंतिम सांस ली। फरवरी में सचिन घर से छुट्टी काट कर ड्यूटी के लिए जम्मू-कश्मीर जा रहा था। रेलगाड़ी में पंजाब के होशियारपुर के समीप बदमाशों ने उनसे लूटपाट की और चलती ट्रेन से नीचे फेंक दिया था।

सचिन अपने पीछे डेढ़ महीने की बेटी, पत्नी नेहा शर्मा, मां कमलेश देवी के अलावा बहन साक्षी शर्मा को छोड़ गया है। सचिन के चचेरे भाई जय प्रकाश और राजेश गौतम ने बताया कि 20 फरवरी को सचिन ने अंबाला से जम्मू की ट्रेन ली थी। टांडा रेलवे स्टेशन से आगे सचिन की आंख खुली तो पाया दो-तीन व्यक्ति सवारियों के बैग तलाश रहे थे। साथ ही महिलाओं से छेड़छाड कर रहे थे। इस पर सचिन ने आपत्ति की तो झड़प हो गई। एक लुटेरे ने सचिन पर पीछे से सिर पर वार कर दिया, जिससे सचिन घायल हो गया । उसे चलती ट्रेन से ही नीचे फेंक दिया था। कई घंटे बाद होश आने पर मुश्किल से समीप एक गौशाला तक पहुंचा। मौजूद लोगों ने उसे अस्पताल पहुँचाया। सचिन ने पूरी घटना यूनिट को भी बताई। एसडीएम पच्छाद डा. संजीव धीमान ने बताया कि सैनिक सचिन शर्मा को बुधवार सुबह अंतिम संस्कार किया जाएगा।