Sirmour में अंडर-19 राज्य स्तरीय स्पर्धा के लिए चुनी हॉकी टीम के चयन पर उठे सवाल?

Sirmour में अंडर-19 राज्य स्तरीय स्पर्धा के लिए चुनी हॉकी टीम के चयन पर उठे सवाल

छात्रा वर्ग की अंडर-19 राज्य स्तरीय स्पर्धा के लिए सिरमौर टीम के चयन पर सवाल उठ गए हैं। जिला स्तर पर पहली बार हॉकी में गिरिपार क्षेत्र के सतौन स्कूल की लड़कियों ने ट्राॅफी जीती है। हैरानी यह है कि राज्य स्तर पर सिरमौर टीम में चयनित 16 खिलाड़ियों में से केवल 6 खिलाड़ी सतौन की विजेता टीम से चुने गए हैं। उपविजेता टीम से चार और दो अन्य टीमों से भी तीन-तीन खिलाड़ी लिए गए हैं।

हैरानी की बात यह है कि किसी भी टीम की रीढ़ की हड्डी माने जाने वाले गोलकीपर का चयन न तो विजेता टीम से किया गया है और न ही उपविजेता टीम से। गोलकीपर सेमीफाइनल मैच हारने वाली टीम से लिया गया है। ऐसे में सतौन की स्कूल प्रबंधन समिति ने टीम के चयन को लेकर सवाल उठाए हैं।

एसएमसी अध्यक्ष दयाराम ने कहा कि सतौन पहली बार विजयी हुआ है। उन्होंने कहा कि 2019 में चुनी सिरमौर टीम में विजेता टीम से 8 और उपविजेता टीम से 7 खिलाड़ी लिए गए थे।

वर्ष 2022 में विजेता टीम से 7 और उपविजेता टीम से 5 खिलाड़ी चुने गए थे। इस वर्ष 2023 में विजेता टीम से 6 और उपविजेता टीम से 4 ही खिलाड़ी लिए गए हैं। उन्होंने कहा कि पहली बार ऐसा देखने को मिल रहा है कि गोलकीपर विजेता व उपविजेता टीम से न होकर हारने वाली टीम से हैं। उन्होंने खेल अधिकारियों से इस ओर गंभीरता से ध्यान देने का आह्वान किया है।

एडीपीईओ गुरदयाल सिंह ने बताया कि इस बारे में चयनकर्ताओं से बात की है। सभी के विचार-विमर्श से ही खिलाड़ियों का चयन किया है।